महिला पर ब्लेड से हमले की घटना से नाराज सीएम ने आला अफसरों को किया तलब, महिला से घर जाकर मिले
वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते सीएमSocial Media

महिला पर ब्लेड से हमले की घटना से नाराज सीएम ने आला अफसरों को किया तलब, महिला से घर जाकर मिले

मुख्यमंत्री ने राजधानी में इस तरह की घटना घटने पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि, राजधानी में तो प्रदेश के दूसरे हिस्सों के मुकाबले कानून-व्यवस्था की स्थिति चुस्त-दुरूस्त होना चाहिए।

भोपाल, मध्यप्रदेश। राजधानी में बदमाशों द्वारा एक महिला के चेहरे पर ब्लेड मारकर उसे घायल करने की घटना को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बेहद गंभीरता से लिया है। उन्होंने रविवार सवेरे मुख्यमंत्री सचिवालय और भोपाल जिले के आला अफसरों को निवास में तलब किया। उन्होंने घटना पर बेहद नाराजगी जताते हुए कहा कि मैं इस घटना से बेहद अपसेट हूं। उन्होंने कहा कि भोपाल में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण होना चाहिए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राजधानी में इस तरह की घटना घटने पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि राजधानी में तो प्रदेश के दूसरे हिस्सों के मुकाबले कानून-व्यवस्था की स्थिति चुस्त-दुरूस्त होना चाहिए। इस तरह की घटना से गलत संदेश जाता है। उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि महिलाओं के विरूद्ध छेडख़ानी की घटनाएं हिंसा का स्वरूप लेंगी, यह अकल्पनीय है। मुख्यमंत्री ने पुलिस कमिश्नर भोपाल मकरंद देऊस्कर को निर्देश दिए कि महिलाओं के सम्मान पर आंच पहुंचाने वाले अपराधिक तत्वों को किसी भी कीमत पर बखशा नहीं जाए। उनके विरूद्ध सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही की जाए। उन्हें जिला बदर भी करना पड़े तो प्रकरण तैयार कर तेजी से क्रियान्वित किया जाए। ऐसे जघन्य अपराधियों को सिर्फ कारावास में भेजने से काम नहीं चलेगा। आवश्यक धाराओं में और अधिक कठोर कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा है कि महिलाओं के विरूद्ध अपराध घटित करने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही की जाएगी।

श्रीमती सीमा से मिलने शिवाजी नगर निवास पहुंचें सीएम :

मुख्यमंत्री चौहान ने रविवार को शिवाजी नगर स्थित श्रीमती सीमा के निवास पर उनसे भेंट कर स्वास्थ्य की जानकारी ली। शनिवार को एक घटना में श्रीमती सीमा पर कुछ बदमाशों द्वारा ब्लेड से हमला कर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया गया था। मुख्यमंत्री ने घायल महिला को एक लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की।

सराहनीय है सीमा का साहस :

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रीमती सीमा का साहस सराहनीय है। उन्होंने बदमाशों की आपत्तिजनक और अश्लील हरकत का हिम्मत से मुकाबला किया। श्रीमती सीमा का उपचार राज्य शासन द्वारा करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्याय का प्रतिकार करना अन्य लोगों के लिए प्रेरणा का काम है। घटना का प्रतिरोध करने वाली सीमा अन्य महिलाओं के लिए प्रेरक भी है। मुख्यमंत्री ने श्रीमती सीमा के बेटा और बेटी, जो भोपाल में पढ़ते हैं, के सहयोग के लिए भी कलेक्टर भोपाल को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि घटना के आरोपी गिरफ्तार किये जा चुके हैं। उनके विरूद्ध कठोरतम कार्रवाई के निर्देश पुलिस कमिश्नर भोपाल और अन्य अधिकारियों को दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने श्रीमती सीमा के पति और अन्य परिजन से भी बातचीत की।

जेल से छूट कर आया है मुख्य आरोपी :

मुख्यमंत्री ने कहा कि घटना में तीन अपराधी शामिल हैं। उन्होंने भयानक अपराध किया है। मुख्य अपराधी ऑटो चलाने का कार्य करता है। वह कुछ दिन पूर्व ही जेल से छूट कर आया है। उसे गिरफ्तार किया जा चुका है। साथ ही उसके वाहन का लायसेंस रद्द कर दिया गया है। श्रीमती सीमा ने साहस का काम किया है। मैं उसे प्रणाम करता हूं और बधाई देता हूं। वे अन्याय और हिंसा के खिलाफ प्रेरणा बन कर सामने आई हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि डॉक्टरों से विचार-विमर्श कर श्रीमती सीमा की प्लास्टिक सर्जरी भी करवाई जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co