Gwalior : राजनीति की पिच पर उतरने अनूप कर रहे दीपावली मिलन समारोह
राजनीति की पिच पर उतरने अनूप कर रहे दीपावली मिलन समारोहRaj Express

Gwalior : राजनीति की पिच पर उतरने अनूप कर रहे दीपावली मिलन समारोह

अनूप मिश्रा अपनी राजनीतिक ताकत दिखाने के लिए नौ नवंबर को आईपीएस कॉलेज में ब्राह्मण समाज का दीपावली मिलन समारोह आयोजित कर रहे हैं, जिसमें केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को बुलाया गया है।

हाइलाइट्स :

  • 9 नवंबर को सिंधिया होंगे शामिल, आईपीएस कॉलेज में होगा कार्यक्रम।

  • भार्गव समाज के कुछ नेता बाद में कर सकते हैं शक्ति प्रदर्शन।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में आने के बाद कुछ समय तक तो भाजपा नेताओं ने उनसे दूरी बनाकर रखी थी, लेकिन समय के हिसाब से जब सिंधिया भाजपा में ही मजबूत हो गए तो भाजपा के कुछ नेता उनके सहारे अपनी राजनीतिक पिच को मजबूत करने का प्रयास कर रहे हैं। पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा अपनी राजनीतिक ताकत दिखाने के लिए नौ नवंबर को आईपीएस कॉलेज में ब्राह्मण समाज का दीपावली मिलन समारोह आयोजित कर रहे हैं, जिसमें केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को बुलाया गया है।

इस आयोजन को लेकर भार्गव समाज के कुछ नेताओं में खासी नाराजगी है और वह बाद में इससे भी बड़ा आयोजन करने पर विचार कर रहे हैं। पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा लंबे समय से भाजपा के अंदर हाशिये पर हैं जिसके कारण वह अब नए सिरे से अपनी राजनीतिक बिसात बिछाने की कोशिश में लगे हुए हैं। यही कारण है कि अब उन्होंने इसके लिए सिंधिया का सहारा लेना शुरू कर दिया है। कुछ समय पहले सिंधिया जब ग्वालियर आए थे तो वह अनूप मिश्रा के घर पहुंचे थे उस समय मिश्रा ने उनका जोरदार स्वागत किया था।

राजनीति में कब क्या बदल जाएं कुछ नहीं कहा जा सकता, क्योंकि अनूप मिश्रा को एक तरह से भाजपा में किनारे कर दिया गया था, लेकिन जिस तरीके के वह इंसान हैं वह हार नहीं मानते यही कारण है कि वह अपने बजूद के लिए सक्रिय हैं और एक बार पटरी पर आने की कोशिश कर रहे हैं।

सिंधिया का ग्वालियर आने का कार्यक्रम बन गया है और वह सात नवंबर की रात को ग्वालियर आएंगे, उसके बाद 9 नवंबर तक वह ग्वालियर ही रहेंगे, इसी के मद्देनजर 9 नवंबर को ही अनूप मिश्रा ने ब्राह्मण समाज का दीपावली मिलन समारोह रखा है जिसमें सिंधिया शामिल होंगे।

अब अनूप मिश्रा के इस कार्यक्रम से भार्गव समाज के कुछ नेता खासे नाराज हैं, क्योंकि उनका कहना है कि हमारे समाज से ग्वालियर जिले में करीब सवा लाख लोग हैं, लेकिन इसके बाद भी ब्राह्मण समाज का नेतृत्व कान्यकुंज ब्राह्मण नेता कर रहे जो अब नहीं चलने देंगे। सूत्र का कहना है कि भार्गव समाज के कुछ ऐसे नेता जो पाला बदलने में माहिर हैं वह इस कार्यक्रम का विरोध कर रहे हैं। समाज में जब इस बात को लेकर चर्चा हुई कि आगे चलकर भार्गव समाज भी एक समारोह आयोजित कर अपनी ताकत दिखाएगा तो इसको लेकर भार्गव समाज के महामंत्री नरेंद्र शर्मा ने आपत्ति जताते हुए कहा कि कार्यक्रम कराओ, लेकिन इसमें सिंधिया को बुलाना ठीक नहीं रहेगा। अब बात आगे क्या बढ़ी इसको लेकर फि लहाल समाज में मंथन चल रहा है। भार्गव समाज के एक नेता का कहना है कि अनूप मिश्रा जो कार्यक्रम करा रहे हैं उससे हमारे समाज के लोग दूरी बनाएंगे इसके लिए हम समाज के लोगों को पास जाकर उनसे बात कर रहे हैं। समाज के उक्त नेता का कहना है कि भार्गव समाज लंबे समय से कान्यकुंज समाज के नेताओं के साथ चलकर उनको आगे बढ़ा रहा है, लेकिन अब समय आ गया है कि भार्गव समाज को आगे बढ़कर नेतृत्व करना होगा ओर इसके लिए समाज तैयार है।

अनूप को आस आगे मिल जाए किसी तरह मौका :

अनूप मिश्रा जब बेलागांव कांड में फंसे थे तो उनको मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था उसके बाद से ही वह भाजपा के अंदर राजनीतिक तौर पर अकेले पड़ गए थे। यहां बता दें कि उस समय भाजपा नेताओं ने ही उस कांड को हवा देने का काम किया था। इस कांड के बाद एक धार्मिक स्थल पर एक संत ने जब अनूप को अंचल के एक बड़े नेता के साथ बैठाकर उनसे संरक्षण देने की बात कही थी उसके बाद उनको मुरैना लोकसभा से टिक ट मिला था और वह सांसद बने थे, लेकि न अगली बार उनका टिकट कट गया था और विधानसभा में भितरवार से टिकट मिला तो वहां से हार मिली उसके बाद से ही वह एक तरह से राजनीतिक हाशिये पर हैं। यही कारण है कि अब वह राजनीतिक पिच पर उतरने के लिए नए समीकरण बनाने में लगे हुए हैं और इसी के चलते वह ब्राह्मण समाज का दीपावली समारोह अपने कॉलेज में कर रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co