Raj Express
www.rajexpress.co
अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही ने अब राजगढ़ को किया शर्मसार
अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही ने अब राजगढ़ को किया शर्मसार|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही ने अब राजगढ़ को किया शर्मसार

राजगढ़, मध्यप्रदेश : प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का एक और मामला आया सामने, जिला अस्पताल की पोल खोल रहा है मामला।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के राजगढ़ में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का एक और मामला सामने आया है, जहां अस्पताल में नसबंदी का ऑपरेशन कराने आई महिलाओं को ऑपरेशन के बाद जमीन पर लिटा दिया गया। अस्पताल प्रबंधन की इस लापरवाही की खबर जिलाधिकारी ने सीएमएचओ को दी है। जहां एक और सरकार प्रदेश की जनता को स्वास्थ्य सेवाए देने के वादे कर रही है, स्वास्थ्य योजनाएं लाई जा रही हैं, वहीं ऐसे मामले स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही पर सवाल खड़े करते हैं। इस मामले से पहले भी विदिशा के ग्यारसपुर और छतरपुर में इस प्रकार की घटनाएं सामने आ चुकी हैं।

क्या है मामला :

जानकारी के मुताबिक, राजगढ़ जिले के कुरावर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में कुछ महिलाएं नसबंदी का ऑपरेशन करवाने आई थीं, जहां ऑपरेशन करने के बाद महिलाओं को वार्ड में ना रखकर वार्ड के बाहर जमीन पर लिटाया गया। अस्पताल के वार्डो में साफ-सफाई होने का हवाला दिया गया। महिलाओं के अलावा साथ में आए परिजन भी ठंड में जमीन पर लेटने को मजबूर हुए। जिस मामले पर अस्पताल प्रबंधन पर परिजनों ने बेड नहीं देने का आरोप लगाते हुए, जिलाधिकारी निधि निवेदिता से शिकायत की। जिसके बाद जिलाधिकारी ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच कराने और मामले में दोषी पाए जाने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही। जांच के लिए सीएमएचओ से रिपोर्ट भी मांगी गई।

स्वास्थ्य विभाग की स्पष्ट है गाइडलाइन :

बता दें कि, स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन में साफ तौर पर लिखा गया है कि, ऑपरेशन के बाद मरीज को बिस्तर पर रखा जाए ताकि धूल- मिट्टी और संक्रमण से बचा जा सके और यह भी लिखा है कि, मरीज को जमीन पर लेटाने से संक्रमण के खतरे 10 गुना अधिक बढ़ जाते हैं।

पहले भी सामने आ चुके हैं मामले :

बता दें कि, इस मामले की तरह विदिशा के ग्यारसपुर और छतरपुर में भी ऐसे मामले आए हैं, जिसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग में मामलों की संख्या बढ़ रही है। जिन मामलों पर कोई सख्त कार्रवाई नहीं की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।