Anuppur : दूसरे की पंचायत में बना दिया 45 लाख का चेक डेम
दूसरे की पंचायत में बना दिया 45 लाख का चेक डेम
Shrisitaram Patel

Anuppur : दूसरे की पंचायत में बना दिया 45 लाख का चेक डेम

अनूपपुर, मध्यप्रदेश : ग्राम पंचायत ताराडांड में जब से नए सचिव अमित सिंह की पदस्थापना हुई है तबसे कार्यों के आड़ में लाखों का गोलमाल किया जा रहा है।

हाइलाइट्स :

  • सचिव और भ्रष्टाचारी इंजीनियर का कारनामा।

  • 600 मीटर में पांच चेक डैम का निर्माण कर लाखों की लगा रहे चपत।

  • ग्राम पंचायत ताराडांड ने ग्राम पंचायत जमुडी में करा दिया चेक डेम का निर्माण।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। भ्रष्टाचारियों ने शासकीय राशि को पचाने के लिए अपनी पंचायत को छोड़ कर दूसरे के पंचायत में एक ही नाले पर 5 चेक डेम का निर्माण वह भी घटिया स्तर का कराया जा रहा है, तीन चेक डेम ताराडांड सचिव के द्वारा और दो चेक डेम किसी ठेकेदार के द्वारा निर्मित किया जा रहा है।

जैतहरी जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत ताराडांड में इंजीनियर और सचिव की मिलीभगत से एक ही नाले में नियम के विपरीत 100 से 200 मीटर की हर दूरी पर लगभग 5 चेक डैम का निर्माण करा दिया गया। ग्राम पंचायत ताराडांड में जब से नए सचिव अमित सिंह की पदस्थापना हुई है तबसे कार्यों के आड़ में लाखों का गोलमाल किया जा रहा है। पंचायत के नियम कानून और तकनीकी खामियों को दरकिनार करते हुए पंचायत के पैसे को बंदरबांट करने की जुगत है। ग्राम पंचायत के अंतर्गत बहने वाले कलछीनाला में लगातार चेकडैम निर्माण का कार्य कर रहे हैं। कोरोनाकाल की आड़ में लाखों रुपए की राशि को बंदरबांट इंजीनियर, सचिव की मिलीभगत से किया जा रहा है।

यह है मामला :

ग्राम पंचायत ताराडांड के द्वारा लगभग 15 लाख की राशि से चेक डेम का निर्माण ग्राम पंचायत जमुड़ी की सीमा में किया गया है। जिसका उद्देश्य किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराना तथा पानी को रोकना था, लेकिन पंचायत की राशि को बंदरबांट करने के लिए सरपंच-सचिव की मिलीभगत से चेक डेम के महज 100 से 200 मीटर में चेक डेम का निर्माण करवाया गया है। जिसका उद्देश्य सिर्फ प्रशासन की राशि को बंदरबांट करना था। लगभग 30 लाख के दो चेक डेम ताराडांड पंचायत में निर्मित हो रहे है और लगभग 45 लाख की लागत से तीन चेक डेम जमुड़ी पंचायत में निर्माण कराया जा रहा है।

भ्रष्टाचारी इंजीनियर की मनमानी :

जनपद जैतहरी में पदस्थ भ्रष्टाचारी इंजीनियर रिंकू सोनी का यह पहला मामला नही है, पहले भी इनके द्वारा किए गए कारनामों से वसूली भी हो चुकी है, लेकिन अधिकारियो कों कमीशन के मार्फत खरीद कर ठेकेदार भी बन गए हैं। जहां भी पदस्थ रहे हैं भ्रष्टाचार के मामले में रिंकू सोनी का नाम सबसे पहले आता है, भ्रष्टाचार के दम पर स्मार्ट सिटी में आलीशान बंगला और अमलाई में भूमि का क्रय भी कर लिया है।

नाले की रेत से किया निर्माण :

पंचायत के नियम कानून को धता बताते हुए अपनी मनमानी और अपनी कलाबाजी से पूरी तरह ध्वस्त कर दिया है। इंजीनियर के द्वारा बिना जांचे परखे चेक डैम के निर्माण का कार्य कराया जा रहा है। निर्माण में भारी अनियमितता के साथ-साथ एक नाले में कई चेक डैम का मामला भी सामने आया है। इंजीनियर के द्वारा बगल से ही लगभग 15 लाख की राशि से दूसरे चेकडैम का निर्माण करा दिया गया, जबकि उक्त जगह पहले से चेक डेम होने की वजह से ना तो सिंचाई के अन्य साधनों की जरूरत पड़ती थी और ना ही खेत तालाब निर्माण का कार्य किया जाना था, फिर भी अपने मनमानी रवैया और तुगलकी कार्यों के कारण शासन की राशि को बंदरबांट करने के लिए लगातार चेक डैम निर्माण का कार्य किया जा रहा है।

रिंकू है असली खिलाड़ी :

जैतहरी जनपद पर पदस्थ इंजीनियर रिंकू अपनी मनमानी लगातार की जा रही है। ताराडांड में बनने वाले चेक डेम में नाले की मिट्टी भरी हुई रेत मिलाकर कार्य किया जा रहा है, जिससे पूरा चेक डेम गुणवत्ता विहीन निर्माण हो रहा है। कलछी नाला में से रेत निकासी एक तरह का आपराधिक कार्य किया जा रहा है। जो की खनिज संपदा और रेत चोरी के दायरे में आता है, जिसका जिम्मेदार निर्माण कार्य करवाने वाले एजेंसी और इंजीनियर है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इंजीनियर रिंकू को जनपद जैतहरी का ठेकेदार माना जाता है। अपनी पदस्थापना से लेकर अब तक किए गए कार्यों में रिंकू स्वयं ठेकेदारी करते नजर आते हैं, यही कारण रहा है कि हर कार्यों में अपनी मनमानी करते हुए गुणवत्ता विहीन कार्य लगातार किया जाता रहा है।

तकनीकी रूप से होनी चाहिए जांच :

ग्राम पंचायत ताराडांड में बनाए गए 5 चेक डेम कि तकनीकी रूप से जांच की जानी चाहिए। प्रत्येक चेक डेम में कम से कम 800 मीटर की दूरी होनी चाहिए, जिससे पर्याप्त मात्रा में नाले में पानी रुक सके लेकिन ग्राम पंचायत ताराडाड के द्वारा बनाए जाने वाले 5 चेक डेम इतने करीब बनाए गए हैं कि नाले में पानी में बहने की संभावना ही कम हो जाएगी।

इनका कहना है :सतीश कुमार तिवारी, सीईओ जनपद पंचायत जैतहरी

ग्राम पंचायत में बनाए जा रहे चेक डेम निर्माण का कार्य तकनीकी रूप से इंजीनियर और एसडीओ देखते हैं आप उनसे बात कर लीजिए।

अमित सिंह, सचिव, ग्राम पंचायत ताराडांड

ग्रामीणों की शिकायत पर जांच किए थे, दोनो पंचायतों की सीमा में चेक डेम का निर्माण कराया जा रहा है, जिसमें से तीन चेक डेम जमुडी पंचायत में निर्मित किया जा रहा है।

सी.एल. राठौर, सचिव, ग्राम पंचायत जमुड़ी

मैं तो प्रतिदिन क्षेत्र में जाती हूं, लेकिन निर्माण कार्य कहा पर हो रहा है, इसकी जानकारी मुझे नहीं है, अगर मेरे क्षेत्र में हो रहा है तो मैं कल ही जा कर इसकी जानकारी लेती हूं।

पुष्पांजली सोनी, पटवारी, हल्का जमुड़ी

आपने मामले को संज्ञान में लाया है, मैं इसकी जानकारी लेकर कार्यवाही करता हूं।

सतीश कुमार तिवारी, सीईओ, जनपद पंचायत जैतहरी

अगर नियम के विपरीत निर्माण कार्य कराया जा रहा है तो मैं तत्काल कार्य में रोक लगा देता हूं।

मिलीन्द नागदेवे, सीईओ, जिला पंचायत अनूपपुर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co