Anuppur : करपा-सरई-लांघाटोला जर्जर मार्ग शीघ्र प्रारम्भ करने किया गया पैदल मार्च
महिला कांग्रेस के तत्वाधान में एक जुट हुए ग्रामीणजनSitaram Patel

Anuppur : करपा-सरई-लांघाटोला जर्जर मार्ग शीघ्र प्रारम्भ करने किया गया पैदल मार्च

आमजन की परेशानियों को ध्यान में रखते हुये अल्टीमेटम दिया गया कि अगर एक माह के भीतर सड़क का कार्य प्रारंभ नहीं किया जाता है तो मजबूरन हमें सड़क पर उतरकर उग्र आंदोलन करने के लिये बाध्य होना पड़ेगा।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। महिला कांग्रेस के तत्वाधान में शासन प्रशासन का ध्यान आकर्षण कराने के संबंध में श्रीमती यशोदा सिंह एडवोकेट प्रदेश सचिव महिला कांग्रेस के नेतृत्व में ब्लॉक अध्यक्ष किसान कांग्रेस एवं ब्लाक अध्यक्ष आदिवासी कांग्रेस के संयुक्त आह्वान पर पैदल मार्च कर ग्राम वासियों से रूबरू हुई। विगत 10 वर्षों से लांघाटोला से सरई पहुंच मार्ग जो जर्जर हालत पर है जिससे पुष्पराजगढ़ तहसील अंतर्गत लगभग 15 से 20 पंचायत के वासियों को आवागमन में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है जिसके संबंध ग्रामीणों द्वारा कई बार क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों एवं शासन प्रशासन को अवगत कराया गया परंतु टेंडर के बाद भी संबंधित निर्माण कार्य एजेंसी द्वारा आज दिनांक तक कार्य प्रारंभ नहीं कराया गया जिससे आए दिन कोई ना कोई दुर्घटना घटित होती रहती है इसके बाद भी प्रशासन द्वारा इस ओर जरा भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है सड़क की दयनीय हालत को देखते हुये ब्लॉक किसान कांग्रेस एव आदिवासी कांग्रेस पुष्पराजगढ़ के संयुक्त तत्वावधान मे एडवोकेट यशोदा सिंह प्रदेश सचिव महिला कांग्रेस के नेतृत्व व सभी पंचायती स्तरीय प्रतिनिधिमंडल सरपंच गण एवं प्रभावित सभी आमजन के सहमति से विगत दिनों सरई करपा से लांघाटोला मार्ग की खस्ताहाल की वास्तविक स्थित से अवगत कराने के लिए सभी सहयोगी साथियो के साथ पैदल मार्च किया गया।

गड्ढों में बेसरम के पौधे रोप कर दर्ज कराया गया विरोध :

गढढो मे तब्दील सड़क पर बेशरम के पौधे रोपण कर विरोध दर्ज कराते हुए अपनी मांगों को बुलंद करते हुए शासन प्रशासन को आगाह करते हुए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पुष्पराजगढ़ को महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौप कर मध्यप्रदेश में बैठी भाजपा की गूंगी बहरी सरकार को पैदल मार्च कर आईना दिखाया गया।

कार्य प्रारम्भ नहीं तो होगा उग्र आंदोलन :

आमजन की परेशानियों को ध्यान में रखते हुये अल्टीमेटम दिया गया कि अगर एक माह के भीतर सड़क का कार्य प्रारंभ नहीं किया जाता तो मजबूरन हमें सड़क पर उतरकर अपनी मांग मनवाने के लिए उग्र आंदोलन करने के लिये बाध्य होना पड़ेगा जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से उपस्थित :

सड़क की दयनीय हालत के निर्माण कार्य को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे प्रदेश सचिव महिला कांग्रेस एडवोकेट यशोदा सिंह, जिला कार्यकारी अध्यक्ष संतोष पांडेय, किसान कांग्रेस अध्यक्ष रामकृपाल चंदवंशी, आदिवासी कांग्रेस अध्यक्ष मनोज सिंह, अनन्त राम सिंह, लखन सिंह, एडवोकेट वंशपाल टांडिया, एडवोकेट देवी सिंह धुर्वे, सामाजिक कार्यकर्ता भुवनेश्वरी सिंह के साथ सैंकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं एवं ग्रामीणजनों की उपस्थिति में सफलतापूर्वक आयोजन किया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.