Anuppur : श्री पटेल के प्रयासों से सदस्य अब निर्वाचन से नही होंगे वंचित
श्री पटेल के प्रयासों से सदस्य अब निर्वाचन से नही होंगे वंचितSitaram Patel

Anuppur : श्री पटेल के प्रयासों से सदस्य अब निर्वाचन से नही होंगे वंचित

अनूपपुर, मध्यप्रदेश : श्री पटेल के प्रयासों से सदस्य अब निर्वाचन से नहीं होंगे वंचित। पढ़ें पूर्व अध्यक्ष रामनाथ पटेल का कीर्ति कार्य। पात्र कराने के साथ ही सदस्यों को किया सूचित।
Summary

आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित अनूपपुर में अध्यक्ष पद पर रहकर लगभग 20 वर्षो से किसानों की मदद करने के साथ ही समाज में अमिट छाप छोड़ने वाले रामनाथ पटेल मूलत परसवार पंचायत के करहीबाह में निवास करते हैं, सालों से लोकहित में जीवन समर्पित करने वाले श्री पटेल ने एक बार फिर वंचित सदस्यों/किसानों को पात्रता की श्रेणी पहुंचाने में अपना योगदान दिये हैं।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित अनूपपुर में कर्मचारियों की लापरवाही से तैयार किये गये सदस्यता सूची में अनेको विसंगतियां पाई गईं। साथ ही साथ 15 सितंबर 2021 को प्रकाशित सदस्यता सूची में दिखाये गये ऋणी पात्र को व्यतिकर्मी अपात्र पर पूर्व अध्यक्ष/प्रशासक रामनाथ पटेल के द्वारा संदेह करते हुए कुल 1485 सदस्यों में से 238 व्यतिकर्मी अपात्र सदस्यों की सूची तैयार करते हुए 20 सितंबर 2021 को अपने पत्र के माध्यम से समिति प्रशासक/प्रबंधक से उक्त 238 सदस्यों का केसीसी ऋण खाता का अवलोकन कर उनमें से ऋण चुकता सदस्यों की जानकारी चाहा गया था, जिसके लिए समिति प्रबंधक संजय द्विवेदी द्वारा लेखापाल उमाशंकर पयासी एवं अनुराग तिवारी को तो लेख कर दिया गया था, किंतु जानकारी आज दिनांक तक अप्राप्त है।

पूर्व अध्यक्ष ने किया किसानों का हित :

कर्मचारियों की लापरवाही व सदस्यता सूची की उपलब्धता न होते हुए भी पूर्व अध्यक्ष रामनाथ पटेल के द्वारा किसानों की हित को देखते हुए अपनी बुद्विमता के आधार पर अनुराग तिवारी से प्राप्त कोरी एवं अप्रमाणित जानकारी के आधार पर वर्षो पूर्व ऋण माफी योजना के तहत् ऋण चुकता सदस्यतों का संज्ञान कर अपने आपत्ति क्रमांक-30 दिनांक- 23 सितंबर 2021 के द्वारा 72 सदस्यों की आपत्ति दर्ज की, जिसके बाद रजिस्ट्रीकरण अधिकारी से विनिश्चय उपरांत अंतिम सदस्यता सूची के प्रकाशन दिनांक-25 सितंबर 2021 में उक्त 70 ऋणी/व्यतिकर्मी सदस्यों को ऋणी पात्र करा लिया गया। शेष 2 सदस्यों का संस्था से प्रमाणित जानकारी न दिये जाने से संदिग्ध में है, जानकारी हेतु संस्था में आयोजित वार्षिक साधारण सम्मिलन दिनांक-29 सितंबर 2021 में आवेदन आवेदित है, जानकारी आते ही पृथक से जानकारी दी जावेगी।

अध्यक्ष ने कराया अपात्र को पात्र :

आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित अनूपपुर के संचालक मण्डल निर्वाचन से पहले सदस्यता सूची तैयार करना था, समिति प्रबंधक ने ऐसा सदस्यता सूची बनाया कि 68 प्रतिशत सदस्यों को अपात्र कर दिया था, पूर्व अध्यक्ष रामनाथ पटेल के दावा आपत्ति के बाद उसमे कुछ प्रतिशत तो सुधार किया, उसके बाद भी उन्होने नाराजगी जाहिर करते हुए अपीलीय अधिकारी के पास भी दावा आपत्ति की गई है, इनके प्रयासों के बाद 72 किसानों को पात्रता की श्रेणी में ला दिया गया।

ये सदस्य हुए पात्र :

जिन सदस्यों को पूर्व अध्यक्ष रामनाथ पटेल के द्वारा ऋणी व्यतिकर्मी को ऋणी पात्र कराया गया है उनमें अनूपपुर से विनोद कुमार पिता शंकर प्रसाद शर्मा, राजकुमार पिता मोहन लाल जैन, यशपाल पिता पुरूषोत्तम, दीपक पिता जयशंकर शुक्ला, ग्राम परसवार से अमर सिंह पिता कृष्णभान क्षत्री, धना सिंह पिता सुखसेन गोड, गिरधर सिंह पिता कंधई सिंह, रामस्वरूप पिता बब्बू सिंह, भुवनेश्वर पिता सुखनंदी कोल, प्रेमलाल पिता रामगरीब कोल, सीतम पिता रामप्रसाद कोल, नत्थू कोल पिता रामस्वरूप, ग्राम मौहरी से संतोष कुमार पिता ललईराम पटेल, रमेश चर्मकार पिता बिहारी चर्मकार, सुखसेन चर्मकार पिता बिहारी चर्मकार, तेरसू बैगा पिता डोमारी बैगा, भोला चौधरी पिता रखिया चौधरी, सुदामा बैगा पिता लंबू बैगा, गुड्डा बैगा पिता ठुन्नू बैगा, गंगाराम बैगा पिता मोहन बैगा, जोहन बैगा पिता बुद्वु बैगा, संतलाल पटेल पिता रामपाल पटेल।

हर ग्राम से जुड़े हैं सदस्य :

ग्राम मेडियारास से अजुन कुमार यादव पिता श्यामलाल, मल्ली कोल पिता घुरईया कोल, श्याममुरारी पिता शिवचरण पटेल, पार्वती पति श्याममुरारी पटेल, जाकिर हुसैन पिता अमीरूद्दीन, कृष्णकांत पिता भगवानदीन पटेल, कमलाकांत पिता भगवानदीन पटेल, ग्राम ताराडांड से पुनुवा पिता लीलमन, कमरूद्दीन पिता मो. अली, छोट्टन भरिया पिता रामनाथ, छोटेलाल पिता भगवत चौधरी, रामचरण कोल पिता सुफल कोल, फूल साह पिता बालकराम, चंद्रमा पिता हरदेव निवास सकरिया, बलेश्वर उराव पिता बोधन उराव निवासी डिंडवापानी, सुकरीन बाई पति बोधन निवासी अकुवा, जयपाल पिता सम्भर निवासी किरर, हीरालाल गोड पिता सम्हारू गोड निवासी किरर, ग्राम बडहर निवासी विश्वनाथ पिता हरी सिंह, सूरज सिंह पिता दुबरिया, बदलू सिंह पिता समरथ सिंह, गोकुल पिता भानू, भाना सिंह पिता बीरबल, ग्राम जमुडी से रतन सिंह पिता ददई, वीर सिंह पिता भगोले, समयलाल पिता धनई गोड, यादविन्दु सिंह पिता श्यामलाल, ग्राम हर्री से मोहन पिता दुर्गा राठौर, ग्राम बर्री से सोनई बैगा पिता जवाहर लाल, हरीलाल राठौर पिता भगवानदास राठौर, ग्राम भोलगढ से शांति बाई पति हर प्रसाद, रामजीवन पिता रामखेलावन।

ये नाम भी हुए शामिल :

ग्राम खांडा से कैलासी देवी पति सुर्दशन रजक, मनेजर पिता सुर्दशन रजक, पूर्णमासी पिता सुर्दशन रजक, प्रेमवती राठौर पिता नारायण राठौर, तेरसिया बाई पति मंगल महरा, शंभु नामदेव पिता मुन्नीलाल, ओमप्रकाश पिता नरबदा, राम सिंह पिता गोरइया गोड, रामकुमार राठौर पिता रामकरण राठौर, ग्राम कोदैली से शंकर यादव पिता पोखई यादव, नत्थूलाल पिता मन्नू, ग्राम बकेली से रामदास पिता विश्वनाथ केवट, जयलाल पिता गंगाराम, ग्राम पोडी मानपुर से सुकरद्दीन पिता सुम्भा कोल, हीरालाल पिता बुद्धू सिंह, जय सिंह पिता लोकनाथ का नाम शामिल है। जो अब आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित अनूपपुर के संचालक मंडल निर्वाचन में भाग ले सकेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.