Anuppur : सूदखोरों के विरुद्ध जन जागरुकता एवं शिकायत निवारण अभियान का आयोजन
सूदखोरों के विरुद्ध जन जागरुकता एवं शिकायत निवारण अभियान का आयोजनSitaram Patel

Anuppur : सूदखोरों के विरुद्ध जन जागरुकता एवं शिकायत निवारण अभियान का आयोजन

एसपी की पहल पर सूदखोरो के विरुद्ध जनजागरुकता एवं शिकायत निवारण अभियान प्रारम्भ करने का निर्णय लिया गया। इसी अनुक्रम में 23 सितंबर को जन जागरुकता अभियान एवं शिकायत शिविर का आयोजन किया गया था।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। सूदखोरी की प्राप्त हो रही निरंतर शिकायतो को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल द्वारा विगत दिनों एक बड़े पैमाने पर 22 सूदखोरों के विरुद्ध कार्यवाही कराई गई। सूदखोरी के प्रकरणों की समीक्षा करने पर यह पाया गया कि सूदखोरों के भय से आमजनता की शिकायत सामने नहीं आ पाती है। जिसके कारण पुलिस को प्रकरण पंजीबद्ध करने एवं कार्यवाही में परेशानियों का सामना करना पडता है। इसे दृष्टिगत रखते हुए एसपी की पहल पर सूदखोरों के विरुद्ध जनजागरुकता एवं शिकायत निवारण अभियान प्रारम्भ करने का निर्णय लिया गया।

होगी सख्ती से कार्यवाही :

इसी अनुक्रम में 23 सितंबर को बंकिम बिहार हाल थाना भालूमाड़ा में जन जागरुकता अभियान एवं शिकायत शिविर का आयोजन किया गया था। इस संबंध में पुन: आमजनता को सूदखोरी के दुष्परिणामों से जागरुक करने के उद्देश्य से 23 सितंबर को मधुवन क्लब हॉल थाना रामनगर में सूदखोरों के विरुद्ध जन जागरुकता एवं शिकायत निवारण शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें सक्त कार्यवाही की बात कही गई।

सूदखोरों का साथ देने वालों पर भी होगी कार्यवाही :

पुलिस अधीक्षक द्वारा यह बताया गया कि ऐसा संज्ञान में आया है कि सूदखोरों के विरुद्ध की गई कार्यवाही के प्रतिक्रिया स्वरूप कुछ तत्वों द्वारा सूदखोरों के पक्ष में शिकायतकर्ताओं को भड़काया जा रहा है एवं शिकायत वापस लेने का दबाव डाला जा रहा है। यदि शिकायतकर्ता पर दबाव डालने की कोई भी शिकायत या जानकारी प्राप्त होती है। तो सूदखोरों के पक्ष में कार्य करने वाले इन तत्वों के विरुद्ध कठोर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।

विवेचना करे गंभीरतापूर्वक :

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक शहडोल जोन शहडोल डी.सी.सागर द्वारा सर्वप्रथम शिविर में उपस्थित नारीशक्ति की सूदखोरी के इस अभियान में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने के कारण भूरीभूरी प्रशंसा की। एडीजी के द्वारा सूदखोरी अधिनियम को और प्रभावी बनाने की बात कहीं। एडीजी सागर द्वारा यह भी कहा कया कि सूदखोरों के विरुद्ध पंजीबद्ध प्रकरणों को अंजाम तक पहुॅचायें तथा विवेचना गंभीरतापूर्वक करें जिसे आरोपी को सजा दिलाकर सूदखोरों की कमर तोड़ी जा सके। शहडोल कमिशनर राजीव शर्मा द्वारा कहा गया कि अन्य विभागों को स के साथ मिलकर कार्य करें। एवं इस सामाजिक विकृति को दूर करने की आवश्यकता पर जोर दिया तथा पुलिस की हर संभव सहायता उपलब्ध कराने की बात कहीं।

यह रहे मौजूद :

सूदखोरी के विरुद्ध जन जागरुकता एवं शिकायत निवारण शिविर में आयुक्त शहडोल राजीव शर्मा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक शहडोल जोन शहडोल डी.सी.सागर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन, एसईसीएल महाप्रबंधक हसदेव क्षेत्र यू.टी.कंजरकर, एसडीओपी कोतमा शिवेन्द्र सिंह बघेल एवं थाना प्रभारी रामनगर, थाना प्रभारी कोतमा, थाना प्रभारी बिजुरी, थाना प्रभारी भालूमाड़ा उपस्थित रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.