बच्चों के भविष्य को संवारने में कोई कसर न छोड़ें : थाना प्रभारी
बच्चों के भविष्य को संवारने में कोई कसर न छोड़ें : थाना प्रभारीSitaram Patel

बच्चों के भविष्य को संवारने में कोई कसर न छोड़ें : थाना प्रभारी

अनूपपुर, मध्यप्रदेश : गूंज समाज कल्याण समिति के तत्वावधान में जागरूकता सप्ताह का आयोजन हुआ। विद्यालय के दीवार पर लिखे सड़क सुरक्षा नियम के पोस्टर देखकर प्रभारी ने जाहिर की प्रसन्नता।
Summary

विद्यालय में आयोजित विधिक जागरूकता कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे ऊर्जावान युवा नगर निरीक्षक अजय कुमार अपने निष्ठावान व लगनपूर्ण कार्य के लिए जाने जाते हैं, उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि बच्चो के भविष्य को सवांरने व उनके प्रतिभा को पहचान कर ऊंचाई तक पहुंचे का कार्य शिक्षक और उनके माता-पिता का होता है, इसलिए भविष्य सवारने में कोई कसर नही छोड़ना चाहिए।

अनूपपुर, मध्यप्रदेश। गूंज समाज कल्याण समिति के तत्वावधान में जागरूकता सप्ताह के अवसर पर शनिवार को शासकीय माध्यमिक विद्यालय नगर परिषद डोला में विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में रामनगर थाने के नगर निरीक्षक अजय कुमार, सहायक उपनिरीक्षक विनोद नाहर व नारी शक्ति महिला पुलिस किरण व युवा समाज सेवी (एनजीओ) गूंज समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष कैलाश अहिरवार, सचिव धर्मेंद्र नाहर, कोषाध्यक्ष सुनीता सिंह तथा आईटी सेक्टर से पुष्पराज विश्वकर्मा व व्यवसायी सन्नी छाबडा मनेन्द्रगढ़ से उपस्थित रहे।

शिविर में छात्र-छात्राएं रहे उपस्थित :

आयोजित इस शिविर में छात्र-छात्राओं को शिक्षा का अधिकार व बाल श्रम के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। जिसमें बाल श्रम प्रतिषेध अधिनियम 1986 तथा बालक श्रम गिरवीकरण अधिनियम 1933 के संबंध में बताया गया कि 14 साल से कम उम्र के बच्चों से बूचड़खाने, बंदरगाह,रेलवे स्टेशन,खान,प्लास्टिक,फाइबर वर्कशाप, बीड़ी बनाने, कालीन बुनना, सीमेंट बनाना, विस्फोटक व पटाखों को बनाने जैसे कार्यो पर नहीं लगाना चाहिए साथ ही नगर निरीक्षक महोदय ने बच्चों को गुड टच, बैड टच की जानकारी दी व सुरक्षा के कई उपाय बताते हुए। साथ ही चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर की जानकारी भी दी तथा बच्चों को सड़क सुरक्षा नियम से भी अवगत कराया बताया गया।

थाना प्रभारी ने छात्रों को दी विधिक जानकारी :

जानकारी देते हुए थाना प्रभारी ने बताया कि उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को किसी भी खतरनाक काम में नियुक्त नहीं किया जा सकता है इसका दोषी पाए जाने पर कम से कम 6 महीने और अधिक से अधिक एक वर्ष की जेल या दस से बीस हजार रुपये जुर्माना या दोनों हो सकता है निरीक्षक महोदय ने विद्यालय के दीवार पर लिखे सड़क सुरक्षा नियम, विद्युत सुरक्षा, भूकंप व आगजनी से सुरक्षा संबंधित पोस्टर देखकर प्रसन्नता जाहिर की और शिक्षकों से आग्रह किया कि वे बच्चों के भविष्य को संवारने में कोई कसर न छोड़ें और हम भी आपके सहयोग के लिए सदैव तत्पर है साथ ही थाना प्रभारी द्वारा विद्यालय प्राचार्य शिक्षक व छात्रों को कोविड की गाईड लाईन का पालन करने के भी निर्देश दिया गया। विद्यालय प्राचार्य पी एन त्यागी द्वारा आये हुए अतिथियों का आभार किया इस अवसर पर विद्यालय परिवार से रजनीश कुमार साहू, श्रीमती प्रीति प्रभा श्रीवास्तव व सरोजनी लकडा छात्र/छात्राएं उपस्थित रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co