रिश्वत लेते रंगे हाथों धराए सहायक यंत्री
रिश्वत लेते रंगे हाथों धराए सहायक यंत्री|Social Media
मध्य प्रदेश

मामूली सी रिश्वत के लालच में सहायक यंत्री धरे गए

मध्यप्रदेश में सुरसा के मुँह की तरह बढ़ती जा रही है रिश्वतखोरी, ऐसा ही एक और ताजा मामला विदिशा से सामने आया है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • ताजा मामला मध्यप्रदेश के विदिशा का

  • बिजली विभाग के सहायक यंत्री को रिश्वत लेते लोकायुक्त टीम ने किया ट्रैप

  • ठेकेदार से बिल पास करने की एवज में माँगी थी रिश्वत

  • भोपाल लोकायुक्त टीम की कार्यवाही।

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में सुरसा के मुँह की तरह बढ़ती जा रही है रिश्वतखोरी, ऐसा ही एक और ताजा मामला विदिशा से सामने आया है, विदिशा में बिजली विभाग के सहायक यंत्री को भोपाल लोकायुक्त की पुलिस टीम ने रिश्वत लेते हुए दबोचा।

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार, बिजली विभाग के सहायक यंत्री को रिश्वत लेते लोकायुक्त की टीम ने ट्रैप किया है, आपको बता दें कि, विदिशा-मध्यप्रदेश विद्युत वितरण कंपनी के ए.ई विकास शर्मा STC विभाग को 5000 रुपये की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त की पुलिस टीम ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार। यह रिश्वत ठेकेदार से बिल पास करने की एवज में माँगी थी, इस मामले में भोपाल लोकायुक्त टीम की कार्यवाही जारी है।

इससे पहले भी मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के पास खेड़ीसावलीगढ़ में रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार का मामला सामने आया था, लोकायुक्त पुलिस भोपाल की टीम ने खेड़ीसावलीगढ़ के बिजली वितरण केंद्र पर कंपनी के जूनियर इंजीनियर केके गुप्ता को 15,000 रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा था ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co