Raj Express
www.rajexpress.co
निलंबित विधायक से किया किनारा
निलंबित विधायक से किया किनारा|Social Media
मध्य प्रदेश

निलंबित विधायक से किया किनारा, पूर्व विधायक ने संभाली कमान

भोपाल, मध्यप्रदेश : नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने के कारण पार्टी से निलंबित विधायक रामबाई परिहार को बहुजन समाज पार्टी की प्रदेश बैठक में न्यौता नहीं मिला है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में दमोह के पथरिया से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) विधायक रामबाई परिहार को नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने के कारण बसपा सुप्रीमो मायावती ने 29 दिसंबर को पार्टी से निलंबित कर दिया था। मिली जानकारी के अनुसार विधायक पार्टी से निलंबित रमाबाई परिहार को बहुजन समाज पार्टी की प्रदेश बैठक में न्यौता नहीं मिला है।

पूर्व विधायक बहुजन समाज पार्टी में लौट आए

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रदेश स्तरीय बैठक में 15 जनवरी को पार्टी सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन बड़े स्तर पर मनाने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा स्थानीय निकाय चुनाव से लेकर संगठन के मुद्दों पर विचार विमर्श हुआ। बैठक के लिए पार्टी की निलंबित विधायक "विधायक रामबाई परिहार" को बुलावा नहीं भेजा गया है। पार्टी की बैठकों और कार्यक्रमों से भी उन्हें दूर रखने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं इस सबके बीच पूर्व विधायक सोनेराम कुशवाह बहुजन समाज पार्टी में लौट आए हैं।

प्रदेश में पार्टी सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन 15 जनवरी को भव्य स्तर पर मनाया जाएगा।

प्रदेश अध्यक्ष रामजी पिप्पल ने बताया

CAA समर्थन पर विधायक को पार्टी से किया था निलंबित

आपको बता दें कि, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) विधायक रामबाई परिहार को नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने के कारण बसपा सुप्रीमो मायावती ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था।

मायावती ने ट्वीट कर कहा था

बहुजन समाज पार्टी अनुशासित पार्टी है व इसे तोड़ने पर पार्टी के MLA आदि के विरूद्ध भी तुरंत कार्रवाई की जाती है। इसी क्रम में MP में पथेरिया से बहुजन समाज पार्टी विधायक रामबाई परिहार द्वारा CAA का समर्थन करने पर उनको पार्टी से निलंबित कर दिया है। उनपर पार्टी कार्यक्रम में भाग लेने पर भी रोक लगा दी गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।