Raj Express
www.rajexpress.co
भडंगा नदी में बहे व्यक्ति की तलाश जारी, मोटर सायकल बरामद
भडंगा नदी में बहे व्यक्ति की तलाश जारी, मोटर सायकल बरामद|Govind Namdev
मध्य प्रदेश

बैतूल: भडंगा नदी में बहे व्यक्ति की तलाश जारी, मोटर साईकल बरामद

घोड़ाडोंगरी, बैतूल : भडंगा नदी पार करते वक्त अपनी मोटर साईकल के साथ एक व्यक्ति के बह जाने व 2 लोगों के बाल-बाल बचने की घटना पर स्थानीय लोगो एवं गोताखोर द्वारा तलाश जारी है

Govind Namdev

हाइलाइट्स

  • भडंगा नदी में बहे पवन राठौर का नही मिला कोई सुराग

  • पवन राठौर के साथ गाड़ी पर बैठे दो मजदूर बाल-बाल बच गए

  • नदी में बहे व्यक्ति की स्थानीय लोगो एवं गोताखोर द्वारा तलाश जारी

  • भडंगा नदी से मोटर सायकल बरामद

  • इस वर्ष अतिवृष्टि होने से पुल, पुलिया क्षतिग्रस्त

राज एक्सप्रेसस। घोड़ाडोंगरी ब्लॉक की बटकीड़ोह पंचायत की भडंगा नदी पार करते वक्त अपनी मोटर सायकल के साथ एक व्यक्ति के बह जाने व 2 लोगों के बाल-बाल बचने की घटना के बाद से ही प्रशासनिक अधिकारी घोड़ाडोंगरी तहसीलदार, पटवारी, थाना प्रभारी अपनी पुलिस टीम के साथ गोताखोरों और स्थानीय नागरिको के संग घटना स्थल पर डटी हुई है नदी में बहे व्यक्ति की स्थानीय लोगो एवं गोताखोर द्वारा तलाश जारी है इस वर्ष अतिवृष्टि होने से पुल पुलियाओ में रेत, पत्थरों, मिट्टियों का भराव हो जाने से पुल-पुलिया क्षतिग्रस्त होकर बह रहे हैं।

भडंगा नदी में बहे पवन राठौर का नही मिला कोई सुराग

जानकारी अनुसार शनिवार के दिन सुबह तक़रीबन 10 से 11 बजे के आसपास पवन राठौर उम्र लगभग 50 वर्ष इसी रास्ते से रोड निर्माण काम पर सातलदेही की साइड पर जाते वक्त बटकीडोह भडंगा नदी पार करते समय नदी में उनकी मोटर सायकल के साथ बह गए, वहीं उनके साथ गाड़ी पर बैठे दो मजदूर बाल-बाल बच गए घटना के लगभग 30 घंटे बीत जाने के बाद भी पवन राठौर का कोई सुराग नही मिल पाया है।

भडंगा नदी में बहे पवन राठौर का नही मिला कोई सुराग
भडंगा नदी में बहे पवन राठौर का नही मिला कोई सुराग
Govind Namdev

नदी से मोटर सायकल बरामद

वहीं नदी में उनकी मोटर सायकल क्रमांक एमपी 48 एम आर 8594 गोताखोर और स्थानीय नागरिकों की मदद से नदी से निकाली गई जिसमें अभी भी उनका खाने का टिफिन लटका हुआ है नदी में पानी का तेज बहाव और अधिक पानी होने से बहे युवक की सर्चिंग में काफी परेशानियाँ हो रही हैं गोताखोर स्थानीय नागरिकों की मदद से नदी के हर एक कोने पर अधिकारियों के निर्देश से सघन तलाशी कर रहे हैं शनिवार सुबह की घटना के बाद से ही अब तक कई बार दूर-दूर तक तलाशी की जा चुकी है किन्तु दो मोटर सायकल के आलावा कुछ हाथ नहीं लगा।

नदी में बहे युवक के पुत्र ने बताया :

मेरे पिताजी शनिवार सुबह लगभग साढ़े नो बजे कैली पूंजी रोड निर्माण कार्य पर दो लोंगो के साथ सातलदेही जाने के लिए निकले थे मेरे पिताजी लगभग डेढ़-दो वर्ष से विशाल अग्रवाल ठेकेदार के यहाँ कार्यरत थे लगभग बीस दिनों से वे सातलदेही की साइड पर जा रहे थे। नदी से बरामद मोटर सायकल मेरे 'पियुष राठौर' के नाम पर है।

अब छत्तीस घंटे से ज्यादा होने वाले हैं, बॉडी के पानी में फूलकर ऊपर आने का अनुमान है जिसके लिए हमारे द्वारा अब जाल और मेट बिछाया जा रहा है और साथ में लगातार सर्चिंग भी जारी है।

गोविन्द राजपूत थाना प्रभारी चोपना