Bhind : चंबल पुल की बैरिंग का लॉक टूटा, हो सकता है बड़ा हादसा
चंबल पुल के एक पिलर की बैरिंगराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Bhind : चंबल पुल की बैरिंग का लॉक टूटा, हो सकता है बड़ा हादसा

भिण्ड, मध्यप्रदेश : ओवरलोड वाहनों के लगातार गुजरने से चंबल पुल के एक पिलर की बैरिंग का लॉक टूट गया है। जिससे पुल अपने आपको गति नहीं दे पा रहा है। इस वजह से पुल की सुरक्षा पर खतरा है।

भिण्ड, मध्यप्रदेश। चंबल पुल पर इसी तरह ओवरलोड वाहन गुजरते रहे तो वो दिन दूर नहीं जब चंबल पुल पर बड़ा हादसा होने की खबर आएगी। ओवरलोड वाहनों के लगातार गुजरने से पुल के एक पिलर की बैरिंग का लॉक टूट गया है। जिससे पुल अपने आपको गति नहीं दे पा रहा है। बता दें कि दो राज्यों की सीमा को जोड़ने वाला चंबल नदी का पुल इन दिनों खतरे में है। इस पुल को खतरा रेत माफिया से है। इस पुल की क्षमता 40 टन की है। यहां से रेत के 125 टन से ज्यादा ओवर लोड होकर वाहन निकाले जा रहे हैं। इस वजह से पुल के पिलर क्रमांक छह का बैरिंग का लॉक टूट गया। अब पुल मूव नहीं कर रहा है।

इस वजह से पुल की सुरक्षा पर खतरा खड़ा हो गया। यदि ऐसा ही रहा तो पुल पर से आवागमन ठप हो सकता है। भिंड जिले के बरही घाट से इटावा जिले के ऊदी को जोड़ने वाले पुल की आयु करीब 50 साल है। यूपी के राष्ट्रीय राजमार्ग खंड लोक निर्माण विभाग के अफसरों का कहना है कि यह पुल का निर्माण सन् 1972 से 75 में पूरा हुआ था। उस समय इस पुल से निकलने वाले वाहनों की संख्या कम हुआ करती थी। तात्कालिक इंजीनियरिंग के मुताबिक इस पुल को सिंगल ऑपशन पर तैयार कराया गया था। इस पुल से निकलने वाले वाहनों की क्षमता 40 टन बताई जाती है। वर्तमान में इस पुल से ओवर लोडेड रेत से भरे वाहनों को निकाला जा रहा है। इस वजह से पुल की सुरक्षा पर खतरा है।

कंपनियों से किया संपर्क

लोक निर्माण विभाग के राष्ट्रीय राजमार्ग के इंजीनियरों ने पुल की जांच करके वरिष्ठ अफसरों को सूचना कर दी है। पुल की सुरक्षा खतरे में होने की खबर भिंड और इटावा यूपी के जिला प्रशासन से भी अगवत करा दिया गया है। इंजीनियरों ने गाजियाबाद और मुंबई की सेतु मेंटेनेंस कंपनियों से संपर्क किया है। इन कंपनियों के माध्यम से पुल के टूटे हुए लॉक को बदला जाएगा। इस वर्क को पूरा करने के लिए हाईजैक और सपोर्टिंग मशीनरी की आवश्यकता होगी।

इस पूरे मामले में लोक निर्माण खंड के राष्ट्रीय राजमार्ग के सहायक अभियंता सुभाष चंद्र शर्मा का कहना है कि "पुल का छह नंबर के पिलर का बॉल्ट टूट गया है। यह ओवर लोडिंग वाहनों की वजह से टूटा है। इसके सुधार के प्रयास किए जा रहे हैं।"

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co