अवैध रेत खनन को लेकर फिर हुआ शूटआउट

भिंड, मध्यप्रदेश: प्रतिबंध लगने के बावजूद भी होता है अवैध रुप से रेत का उत्खनन, जिसके चलते विवाद के तहत हत्या की वारदात को अंजाम देने का मामला आया सामने।
अवैध रेत खनन को लेकर फिर हुआ शूटआउट
अवैध रेत खनन को लेकर फिर हुआ शूटआउटSocial Media

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश को माफियामुक्त रखने के लिए लगातार कई प्रयास किए जा रहे हैं वहीं माफियाओं पर कड़ी कार्रवाई भी की जा रही है इसके बावजूद भी रेत की खदाने अवैध रुप से संचालित हो रही हैं। इसी के चलते भिंड जिले में आधिपत्य और वर्चस्व की लड़ाई में दोनों पक्षों के बीच विवाद का मामला सामने आया है जहां विवाद के दौरान गोलीबारी की घटना में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। साथ ही घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए।

क्या है मामला :

जानकारी के मुताबिक, यह घटना भिंड जिले के लहार थाना क्षेत्र की है, जहां दो पक्षों में रेत के अवैध उत्खनन और भंडारण को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था दोनों पक्ष अपने आधिपत्य को साबित करने में लगे थे। इसी के चलते आरोपी नरेंद्र गुर्जर एवं मोनू गुर्जर ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर मृतक अंगद सिंह के रेत भंडारण पर पहुंचे और उस पर गोलीबारी करते हुए हमला कर दिया जिसमें युवक बुरी तरह घायल हो गया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए, वहीं घायल हालात में युवक को वहां मौजूद लोगों द्वारा अस्पताल पहुंचाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पुलिस ने मामला किया दर्ज :

वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंची और घटना में उक्त आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। वहीं मामले पर कार्रवाई करते हुए आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई।

प्रतिबंध के बाद भी होता है अवैध उत्खनन :

बता दें कि जिले की चंबल और सिंध नदी पर अवैध रुप से बड़े तौर अवैध उत्खनन किया जा रहा था जिस पर प्रशासन द्वारा प्रतिबंध लगाया जा चुका है। प्रतिबंध लगने के बाद भी नदी पर अवैध रूप से रेत की खदानों का संचालन किया जा रहा था और जिसे लेकर आए दिन वर्चस्व और आधिपत्य को लेकर रेत माफियाओं के बीच विवाद की स्थिति बनती थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co