भोपाल: देश में सामाजिक नेतृत्व से ही परिवर्तन संभव हैं- संघ प्रमुख भागवत

राजधानी भोपाल में आयोजित बैठक में संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले- देश में सामाजिक नेतृत्व से ही परिवर्तन संभव हैं, सरकार के भरोसे परिवर्तन संभव नहीं।
भोपाल: देश में सामाजिक नेतृत्व से ही परिवर्तन संभव हैं- संघ प्रमुख भागवत
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवतSocial Media

मध्यप्रदेश। प्रदेश की राजधानी भोपाल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की क्षेत्रीय बैठक आयोजित की गई। जिसमें संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत भोपाल पहुंचे हैं। 28 सीटों पर उपचुनाव के लिए हुई वोटिंग की मतगणना से पहले उनके यहां पहुंचने पर राजनीतिक गलियारों में कई अनुमान लगाए जा रहे हैं। हालांकि बैठक में उपचुनाव से संबंधित कोई चर्चा नहीं की गई।

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि समाज में आत्मनिर्भरता का भाव स्थापित करना है। इसके लिए समाज को प्रयास करना होगा। सरकारों के भरोसे समाजिक परिवर्तन संभव नहीं हैं। समाज के परिवर्तन तो सामाजिक नेतृत्व के कारण ही संभव होते हैं। उन्होंने कहा- कोरोना ने समाज में आत्मनिर्भरता का भाव पैदा किया हैं। इस महामारी में नए कार्यकर्ताओं के आने से समाज में नई ऊर्जा के साथ काम किया जा रहा है। सामाजिक नेतृत्व से ही परिवर्तन संभव है, ये सरकारों के भरोसे नहीं छोड़ा जा सकता हैं। कोरोना के सभी प्रश्नों के उत्तरों को समाज ने ही एकजुट होकर हल किया है।

भागवत ने कहा कि कोरोना के समय में संघ का कार्य वर्चुअल रूप से चल रहा हैं। कोरोना की विपरित परिस्थितियों ने सभी को परेशान किया, किंतु अब समाज के कार्य को आगे बढ़ाना है। संघ की सभी अर्हताओं को ध्यान में रखते हुए कार्यकर्ताओं को प्रत्यक्ष जमीनी स्तर पर लाना हैं। शाखाओं को मैदान पर छोटे-छोटे समूह में ले जाना हैं। भोपाल में आयोजित हुई संघ की तीन दिवसीय की बैठक में अधिकारी वर्ग भी मौजूद था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co