बढ़ते प्रदूषण
बढ़ते प्रदूषण|Social Media
मध्य प्रदेश

प्रदूषण नियंत्रण पर प्रदेश सरकार सख्त, सभी विभागों को आदेश जारी

मध्यप्रदेश में प्रदूषण की स्थिति बेहद खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है। बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए जिला कलेक्टर का बड़ा आदेश सभी विभागों को जारी।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में प्रदूषण की स्थिति बेहद खतरनाक स्तर पर पहुंच गई है। शहर में जहरीली हवा का कहर बढ़ता ही जा रहा है, जिससे लोगों का रहना मुश्किल हो रहा है। बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए जिला कलेक्टर तरुण कुमार पिथोड़े का बड़ा आदेश सभी विभागों को जारी हुआ है।

जिला कलेक्टर का बड़ा आदेश

शहर में चल रहे निर्माण कार्य, धुआँ, धूल, टायर के धुएं से हो रहे प्रदूषण को रोकने के लिए जिला प्रशासन सक्रिय हो गया है, शहर में वायु प्रदूषण, एयर क्वालिटी इंडेक्स को कम करने के लिए जिला प्रशासन ने एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। वहीं, नगर निगम, आरटीओ व अन्य एजेंसियों की जिम्मेदारी भी तय कर दी गई है। इस प्लान के तहत कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

श्री तरुण कुमार पिथोड़े ने दिए निर्देश

कलेक्टर श्री तरुण कुमार पिथोड़े ने निर्देश दिए अब दो पहिया या चार पहिया वाहनों का बिना पीयूसी के (पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल) बीमा नहीं किया जायेगा। शहर में टायर, प्लास्टिक सहित अन्य कचरा न जलाएं, ऐसा करने पर नगर निगम इनके खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करे। पीयूसी जांच के लिए आरटीओ के साथ, प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को संयुक्त कैंप लगाकर वाहनों की जांच की जाएगी।

जिला कलेक्टर ने दिए आदेश

  • पीयूसी सेंटर नहीं हुए तो पेट्रोल पंप होंगे सील

  • क्रेशर मशीन चालकों ने काम के दौरान धूल उड़ाई तो मालिक पर होगी कार्यवाही

  • निर्माण सामग्री सड़क किनारे रखने पर मालिक पर होगी कार्यवाही

  • प्रदूषण बचाने के लिए स्कूलों में लगाई जाए कार्यशाला

  • कलेक्ट्रेट के आदेश का पालन नहीं करने वालों पर होगी कार्यवाही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co