Raj Express
www.rajexpress.co
 सनसनीखेज हत्याकांड
सनसनीखेज हत्याकांड|Priyanka Yadav
मध्य प्रदेश

भोपाल: सनसनीखेज हत्याकांड! दुकान में घुसकर पति ने पत्नी को चाकू से गोदा

भोपाल, मध्यप्रदेश: मंगलवारा थाने से चंद कदम दूर ट्रांसपोर्ट एरिया में गुरूवार दोपहर पूर्व पति ने पत्नी की हत्या कर दी। सनसनीखेज हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • दोबारा शादी करने का दबाव बना रहा था पूर्व पति

  • मंगलवारा थाने में गुहार लगाकर दुकान की सीढ़ियां चढ़ रही थी महिला

  • दुकान के खुफिया कैमरे में भागता दिखाई दे रहा है आरोपी

  • घातक चोटें लगने के कारण उजमा की मौत हो गई

राज एक्सप्रेस। मंगलवारा थाने से चंद कदम दूर ट्रांसपोर्ट एरिया में गुरूवार दोपहर पूर्व पति ने तलाकशुदा पत्नी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। आरोपी ने वारदात को उस समय अंजाम दिया जब महिला उस दुकान की सीढ़ियां चढ़ रही थी, जिसमें वह नौकरी करती थी। आरोपी पूर्व पति चार-पांच दिन से पीछा कर महिला को धमकियां दे रहा था। दुकान पर आने से पहले तलाकशुदा पत्नी मंगलवारा थाने में गुहार लगाने पहुंची थी लेकिन पुलिस ने यह कहते हुए चलता कर दिया कि लिखित शिकायत देने पर ही कोई कार्रवाई हो सकती है। सनसनीखेज हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। ग्लास हाउस में काम करने वाले कर्मचारी लहूलुहान महिला को लेकर अस्पताल पहुंचे लेकिन पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी।

पुलिस के अनुसार

आरिफ नगर निवासी उजमा खान (26) की शादी करीब सात साल पहले सीहोर में रहने वाले शारिक खान से हुई थी। शारिक चारपहिया वाहन का मैकेनिक है। उजमा और शारिक के दो बच्चे हैं। सात साल का बेटा उजेब और चार साल की बेटी उजबा है। शराब पीने की लत के कारण उजमा का आए दिन शारिक से विवाद होता रहता था। शारिक अपनी पत्नी के साथ बेरहमी से मारपीट करता था। तंग आकर उजमा यहां अपने मायके आकर रहने लगी थी। इस बीच शारिक कई बार अपनी पत्नी का मनाकर सीहोर ले जाता था। लेकिन कुछ दिन बाद उजमा मायके लौट आती थी।

तलाक के बाद करने लगा परेशान-

उजमा की मौसी नूरजहां बानो शराबी पति से परेशान उजमा ज्यादातर अपने मायके में ही रहती थी। बार-बार भोपाल व सीहोर आने-जाने के कारण वह तंग आ गई थी। इसी कारण से बच्चों की पढ़ाई भी अच्छे से नहीं हो पा रही थी। पति से पटरी नहीं बैठ पाने के कारण ही उजमा ने अपने पति शारिक से तलाक लेने का फैसला ले लिया था। करीब आठ माह पूर्व दोनों पक्षों की रजामंदी से उजमा व शारिक का तलाक हो गया था। तलाक होने के बाद कुछ दिन तक उजमा व शारिक के बीच कोई संपर्क नहीं हुआ लेकिन बाद में वह उजमा को परेशान करने लगा।

थाने से निकलते ही चाकू से गोद डाला-

उजमा के मौसेरे भाई शादाब खान ने बताया कि, पिछले कुछ दिनों से उजमा काफी परेशान थी। वह असर अपनी बातें शेयर करती थी। उजमा ने उसे बताया था कि, पांच-छह दिन पहले पूर्व पति शारिक का फोन आया था। वह उसे धमका रहा था। शारिक ने कहा था कि अगर मुझसे दोबारा शादी नहीं की तो तूझे जिंदा नहीं छोडूंगा। तुझ पर तेजाब फेंक दूंगा। धमकियों से डरी-सहमी उजमा गुरुवार सुबह सुरक्षा की गुहार लगाती हुई मौसेरे भाई शादाब के साथ मंगलवारा थाना पहुंची थी।

लेकिन थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसकी बात सुनने के बाद यह कहकर चलता कर दिया कि मौखिक शिकायत से कुछ नहीं होगा। लिखित शिकायती आवेदन दो तो कार्रवाई हो सकती है। बताया जाता है कि पुलिस के रवैये से हताश उजमा थाने से निकलकर दीपक ग्लास हाउस की ओर जाने लगी। थाने से करीब पांच सौ मीटर दूर वह दुकान की सीढ़ियां चढ़ ही रही थी कि तभी घात लगाकर नजर रखा शारिक वहां आ धमका और चाकू से उजमा पर प्राणघातक हमला कर दिया। सीने व चेहरे पर घातक चोटें लगने के कारण उजमा की मौत हो गई।

डेढ़ माह से नौकरी कर रही थी उजमा-

बताया जाता है कि उजमा खान यहां आरिफ नगर में अपनी मां नुसरत उर्फ बीबी जान के साथ रहती थी और घर में ही बुटिक का काम भी करती थी। बच्चों की अच्छी तरह परवरिश करने के लिए करीब डेढ़ माह पूर्व उसने ट्रांसपोर्ट एरिया इतवारा में दीपक ग्लास हाउस में नौकरी कर ली थी। बच्चे अपने ननिहाल में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। तीन भाई बहनों में उजमा मझली थी जबकि उजमा से बड़ा भाई नवेद खान व छोटी बहन नगमा थी। तीनों भाई-बहनों की शादी हो चुकी थी।

फुटेज में भागता दिख रहा है हत्यारा-

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनु व्यास का कहना है कि दीपक ग्लास हाउस में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। हालांकि आरोपी शारिक वारदात को अंजाम देता हुआ तो नहीं दिखाई दे रहा है लेकिन आते और भागते हुए स्पष्ट नजर आ रहा है। आरोपी की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। मृतका ने तलैया थाने में भी शिकायती आवेदन दिया था। दूसरी ओर मंगलवारा थाना प्रभारी संदीप पवार का कहना है कि हमारे पास कोई शिकायत नहीं आई है।