भोपाल में कोरोना का बढ़ता कहर, प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन 20 से बढ़ाकर किए 51
प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन 20 से बढ़ाकर किए 51Deepika Pal - RE

भोपाल में कोरोना का बढ़ता कहर, प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन 20 से बढ़ाकर किए 51

भोपाल, मध्यप्रदेश: बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर प्रशासन ने छह दिन में ही कंटेनमेंट जोन- 20 से बढ़ाकर 51 किए हैं।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण का असर जहां थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में प्रतिदिन कोरोना के नए मामले मिलते जा रहे है। जिसके चलते ही बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर प्रशासन ने छह दिन में ही कंटेनमेंट जोन- 20 से बढ़ाकर 51 किए है। वहीं कंटेनमेंट जोन के लिए नए निर्देशों की नई गाइडलाइन भी जारी की है।

कंटेनमेंट जोन को लेकर प्रशासन ने जारी की ये गाइडलाइन

इस संबंध में, कोरोना संक्रमण को लेकर अब तक राजधानी के बैरसिया थाना क्षेत्र में सबसे ज्यादा 7 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं तो वहीं प्रशासन द्वारा नई गाइडलाइन जारी की गई है। जो इस प्रकार है।

  1. आवश्यक सुविधाओं के अतिरिक्त लोगों का बाहर जाना प्रतिबंधित रहेगा।

  2. कंटेनमेंट जोन में आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहने के साथ लोगों को घर में ही होम क्वारंटाइन रहना होगा।

  3. कंटेनमेंट जोन में पॉजिटिव केस के परिजन निकटतम संपर्क को होम क्वारंटाइन आवश्यक है, जिससे संक्रमण को समुदाय में फैलने से रोका जा सके।

  4. नगर निगम के जोनल अधिकारी द्वारा क्षेत्र का सैनिटाइजेशन किया जाना सुनिश्चित होगा।

  5. सभी लोगों को आरोग्य सेतु ऐप व सार्थक एप का प्रयोग करना अनिवार्य होगा।

प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन की लिस्ट जारी
प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन की लिस्ट जारीDeepika Pal- RE

राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण की स्थिति इस प्रकार है-

इस संबंध में बताते चलें कि, एक बार फिर राजधानी भोपाल में कोरोना से भयावह स्थिति आ गई है। जिसके साथ ही भोपाल में लगातार दूसरे दिन 500 के पार केस मिले। 24 घंटे में 502 नए पॉजिटिव आए हैं। इसके साथ ही राजधानी में कोरोना संक्रमण की यह दर 20.08 फीसदी है। यह प्रदेश के संक्रमण दर 10.5 से दो गुनी है। बताते चलें कि, नाइट कर्फ्यू और रविवार लॉकडाउन के बाद भी कोरोना की स्थिति ऐसी भी बनी हुई है। भोपाल में प्रतिदिन औसतन 3 हजार के आसपास ही कोरोना के सैंपलों की जांच की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co