झीलों की नगरी के बड़े तालाब में लोगों को मिली नयी सौगात

भोपाल, मध्यप्रदेश : झीलों की नगरी में प्रदेश के लोगों और पर्यटकों के लिए मुख्यमंत्री ने म्यूजिकल वाटर फ्लोटिंग फाउंटेन का किया उद्घाटन।
झीलों की नगरी के बड़े तालाब में लोगों को मिली नयी सौगात
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने म्यूजिकल वाटर फ्लोटिंग फाउंटेन का किया उद्घाटनSocial Media

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी झीलों की नगरी कही जाती है, जहां शहर के लोगों के अलावा पर्यटक भी झीलों की खूबसूरती से सुकूनता का अनुभव करते हैं। इसी को देखते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा सबसे बड़ी झील (बड़ा तालाब) पर संगीतमय फव्वारे का उद्घाटन किया गया। इस उद्घाटन समारोह के अवसर मुख्यमंत्री कमलनाथ के अलावा जनसंपर्क मंत्री श्री पी सी शर्मा, सहकारिता मंत्री श्री गोविंद जी, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह और और वरिष्ठ आला अधिकारी और वरिष्ठ नागरिक मौजूद रहे।

झील की खूबसूरती बिखरेगा फव्वारा :

बता दें कि पानी की स्क्रीन पर भोपाल के इतिहास को बिखेरने के लिए बड़ी झील पर संगीतमय फव्वारे को लगाया गया है जिससे पर्यटक भोपाल के राजा भोज और अन्य राजा- महाराजाओं के इतिहास के बारे में जान सकेंगे। 60 मीटर चौड़ा और 30 मीटर ऊंचे फव्वारे को सॉफ्टवेयर के जरिए संचालित किया जाएगा। वहीं पर्यटकों आने-जाने के लिए लगभग 1500 फीट की जगह रखी गई है।

इस अवसर पर शास्त्रीय संगीत और गायन के साथ भोपाल ताल की पानी की बूंदों से मनोहारी छटाएँ प्रस्तुत की गई। पानी की बूंदों के जरिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150वें वर्ष में उनके जीवन वृत्त को आकर्षक ढंग से प्रस्तुत किया गया।

प्रदेश का सबसे बड़ा लाइट एंड साउंड शो :

यह फव्वारा प्रदेश का सबसे बड़े लाइट एंड साउंड शो है, जिसमें भोपाल के इतिहास को लेजर शो के माध्यम से दर्शकों को दिखाया जाएगा। जिसके उद्घाटन से पहले बोट क्लब में उद्घाटन की व्यवस्था को लेकर बीएमसी के अधिकारियों की बैठक ली गई थी। जिसके लिए महापौर आलोक शर्मा ने अधिकारियों के साथ मिलकर ऊपरी क्षेत्र का दौरा किया ताकि व्यवस्था बन सके।

देश में प्रदेश की एक अलग पहचान बने - मुख्यमंत्री कमलनाथ

इस अवसर पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि, अब हमारा लक्ष्य है कि, देश में मध्यप्रदेश की एक अलग पहचान बने। भविष्य की जरूरतों और आबादी के दबाव को कम करने के लिए भोपाल सहित प्रदेश के सभी शहरों का मास्टर प्लान बनाया जाएगा। वहीं भोपाल के इतिहास का विधिवत लेखन करने के लिए माध्यम बनाया जा रहा है।

साथ ही कहा कि, हर शहर की अपनी संस्कृति और इतिहास है। आने वाली पीढ़ी को इससे अवगत कराने के लिए प्रयास करने होगें जिससे वे अपने शहर की विशिष्ट परंपराओं और सभ्यता को जान सकें। बढ़ते हुए शहरीकरण से उत्पन्न समस्याओं पर गंभीरता से सोचना होगा और इसके समाधान के उपाय तलाशने होंगे। शहरों के विस्तार और उन्हें व्यवस्थित बनाए रखने के लिए आम जनता इससे जुड़े रहे। बगैर आम जनता के सहयोग के प्रदेश का विस्तार संभव नहीं होगा। इस अवसर पर महापौर श्री आलोक शर्मा एवं नगर निगम को बधाई दी।

शहर का सौंदर्य निखारने की नई शुरुआत- कैबिनेट मंत्री पी.सी शर्मा

जनसंपर्क एवं विधि विधायी मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि, मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ प्रदेश के हर शहर का सौंदर्य निखारने के प्रयास प्रारंभ किए हैं। आज हमारा भोपाल वायु सेवा के माध्यम से देश के प्रमुख शहरों से जुड़ा है। इसका श्रेय श्री कमल नाथ जी को जाता है। श्री शर्मा ने कहा कि, बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए संजीवनी क्लीनिक का शुभारंभ कर मुख्यमंत्री ने ऐतिहासिक काम किया है। बेहतर स्वास्थ्य के साथ सुंदर शहर बनाने के लिए भी उनके निरंतर प्रयास जारी हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co