भोपाल: कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव की रणनीति पर सीएम ने किया मंथन
CM की समीक्षा बैठकSocial Media

भोपाल: कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव की रणनीति पर सीएम ने किया मंथन

भोपाल, मध्यप्रदेश। सीएम ने कोरोना को लेकर बैठक की, इस बैठक में सीएम ने कोरोना की तीसरी लहर की सम्भावनाओं को देखते हुए चिकित्सा विशेषज्ञों के सुझाव लिये।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना संक्रमण की रोकथाम और प्रदेश को कोरोना मुक्त बनाने के लिए सरकार व प्रशासन लगातार प्रयास कर रही है, इसी बीच कल मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना नियंत्रण की समीक्षा बैठक की है, इस बैठक में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव की रणनीति पर मंथन किया गया।

सीएम ने कोरोना की स्थिति को लेकर की समीक्षा बैठक

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा बैठक की, बैठक में सीएम ने कोरोना की तीसरी लहर की सम्भावनाओं को देखते हुए चिकित्सा विशेषज्ञों के सुझाव भी लिये और पीड़ितों के इलाज और बचाव के लिये जन-सहयोग से अग्रिम कार्य-योजना पर चर्चा की। बैठक में कोर ग्रुप के मंत्री और अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए।

प्रत्येक नागरिक को कोरोना अनुकूल व्यवहार अपनाने के लिए जागरूक किया जाए। हमारा प्रयास रहेगा कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर नहीं आए।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा-

वहीं, चिकित्सा विशेषज्ञों का अनुमान है कि कोरोना की तीसरी लहर सितम्बर, अक्टूबर में आ सकती है। अत: इलाज की पूरी तैयारी रखी जाए, चिकित्सालयों में बेड्स की उपलब्धता, ऑक्सीजन आपूर्ति में आत्म-निर्भरता, उपकरणों एवं दवाइयों की पर्याप्त उपलब्धता और भण्डारण, चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ आदि के पदों में वृद्धि और प्रशिक्षण पर आधारित कार्य योजना पर कार्य किया जाए।

चिकित्सा विशेषज्ञों ने बताया

इस बैठक में चिकित्सा विशेषज्ञों ने बताया कि तीसरी लहर में बच्चे अधिक संख्या में पीड़ित होंगे। इस अनुमान का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है। इस अनुमान का आधार है बच्चों में वैक्सीनेशन नहीं होना और स्कूल-कॉलेज शुरू होने पर आपसी सम्पर्क का बढ़ना।

बैठक में बताया गया कि शासकीय अस्पतालों में वर्तमान में उपलब्ध अलग-अलग श्रेणियों के बेड्स की संख्या बढ़ायी जा रही है। ऑक्सीजन बेड्स की संख्या 36 प्रतिशत बढ़ायी जा रही है। अगस्त 21 तक 19 हजार 130 ऑक्सीजन बेड्स की क्षमता प्राप्त कर ली जायेगी, बच्चा वार्ड में ऑक्सीजन बेड की संख्या में 120% की वृद्धि कर 2247 बेड्स की क्षमता हासिल की जाएगी।

आपको बताते चलें कि राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आने का सिलसिला लगातार जारी है, प्रदेश की पॉजिटिविटी दर 0.8 प्रतिशत रही है। प्रदेश में कल 81 हजार 812 कोरोना टेस्ट किये गये, जिसमें से 718 नए कोरोना केस मिले हैं। एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या वर्तमान में 11 हजार 344 हो गई है। प्रदेश देश में 19 वें स्थान पर आ गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co