CM चौहान ने संत सिंगाजी की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर किया माल्यार्पण
CM चौहान ने संत सिंगाजी की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर किया माल्यार्पणSocial Media

CM चौहान ने संत सिंगाजी की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर किया माल्यार्पण

भोपाल, मध्यप्रदेश: प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर संत सिंगाजी महाराज की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर माल्यार्पण किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। वैश्विक महामारी कोरोना महामारी का दौर जहां जारी है वहीं दूसरी तरफ संकट के माहौल में महान विभूतियों की जयंती और पुण्यतिथियों का दौर भी जारी है इस बीच ही आज शुक्रवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर संत सिंगाजी महाराज की जयंती के अवसर पर उनके चित्र पर माल्यार्पण किया।

संत सिंगाजी को 16वीं या 17वीं शताब्दी का माना जाता है काल

इस संबंध में आपको बताते चलें कि, संत सिंगाजी का जन्म ग्राम खजूरी जिला बड़वानी मध्यप्रदेश मे हुआ। संत सिंगाजी को 16वीं या 17वीं शताब्दी के काल का माना जाता है। कहा जाता है कि सिंगाजी एक कवि व संत थे।समूचे मध्यप्रदेश में अनेकों स्थानों पर सिंगाजी के डेरे व समाधियाँ बनी हुयी हैं, जहाँ मेलों का आयोजन भी किया जाता है। कवि संत सिंगाजी के आध्यात्मिक गीत आज तक गाये जाते हैं। खंडवा जिले में निर्मित थर्मल पावर प्लांट मुंडी का नाम संत सिंगाजी के नाम पर रखा गया है।

संत सिंगाजी से जुड़ी खास जानकारी

इस संबंध में बताते चलें कि, संत सिंगाजी को निमाड़ का कबीर भी कहा जाता है। आज भी निमाड़ में उनके जन्म स्थान व समाधि स्थल पर उनके पदचिह्नों की पूजा-अर्चना की जाती है। उनके चमत्कार आज भी लोग महसूस करते हैं। बताते चलें कि, सिंगाजी महाराज का समाधि स्थल इंदिरासागर परियोजना के डूब क्षेत्र में आने की वजह से उस मंदिर को 50-60 फीट के परकोटे से सुरक्षित किया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co