CM शिवराज ने सीएम हाउस पर बुलाई आपात बैठक, ड्रग समेत कई मुद्दों पर चर्चा
CM शिवराज ने सीएम हाउस पर बुलाई आपात बैठकSocial Media

CM शिवराज ने सीएम हाउस पर बुलाई आपात बैठक, ड्रग समेत कई मुद्दों पर चर्चा

भोपाल, मध्यप्रदेश: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है जिसके तहत ड्रग माफिया समेत कई मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी कोरोना का संकट जहां साल के अंत में भी थमा नहीं है वहीं दूसरी तरह संकटकाल के बीच प्रदेश की गति को रफ्तार देने के लिए सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं इसी दौर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यानि शुक्रवार को अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है जिसके तहत ड्रग माफिया समेत कई मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। बताते चलें कि, यह बैठक 10.30 बजे से मुख्यमंत्री निवास पर शुरू हुई है।

नशे के विरुद्ध मुहिम संबंधी बैठक हुई आयोजित

इस संबंध में, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मुख्यमंत्री निवास पर उच्च अधिकारियों के साथ नशे के विरुद्ध मुहिम संबंधी बैठक आयोजित की गई। जहां प्रदेश में बढ़ रहे ड्रग माफिया के प्रसार को कम करने के लिए बैठक ली गई है। बताते चले कि, इस बैठक में सीएस, डीजीपी, एसीएस होम, एडीजी इंटेलिजेंस मौजूद है तो वही 8 संभागों के आयुक्त, आईजी और 15 जिलों के कलेक्टर एसपी को वीसी के माध्यम से बैठक में जुड़ने के निर्देश जारी किए गए हैं। बताते चले कि, नशे के विरुद्ध मुहिम के संबंध बैठक में भोपाल, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, ग्वालियर, सागर रीवा, होशंगाबाद, छिंदवाड़ा, नीमच, दतिया, मंदसौर, नरसिंहपुर, रतलाम और सतना जिलों के कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक वीसी के माध्यम से जुड़ेंगे। वहीं भोपाल, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, ग्वालियर, सागर, रीवा और होशंगाबाद संभाग के संभागीय आयुक्त तथा पुलिस महानिरीक्षक भी बैठक में शामिल होंगे।

सीएम ड्रग माफिया के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के देंगे निर्देश

इस संबंध में आपको बताते चलें कि, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बैठक के दौरान नशे औऱ ड्रग माफिया के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के निर्देश जारी कर सकते हैं। जहां बैठक में स्पेशल टीम गठित करने, युवा वर्ग में नशे की प्रवृत्ति रोकने के लिए अभियान चलाने जैसे निर्देश भी दिए जा सकते है। बता दें कि, बीते दिन गुरूवार को सीएम ने अधिकारियों की बैठक ली थी जिसमें सख्ती दिखाते हुए कहा था कि, अपराधों से जुड़े व्यक्तियों को किसी भी स्थिति में बख्शा नहीं जाएगा। प्रदेश में युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले लोगों को इसके दुष्परिणाम भुगतने होंगे।

बैठक में सीएम शिवराज ने कही ये बात

इस संबंध में, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि,मध्यप्रदेश में ड्रग माफिया किशोर बच्चों में इसकी आदत डालने का प्रयास कर रहे हैं। मानवता के इन दुश्मनों को उखाड़ फेंकने के लिए एक समन्वित और विशेष अभियान की आवश्यकता है। इनके विरुद्ध ऐसी कार्रवाई हो कि प्रदेश में ये पूरी तरह से समाप्त हो जायें, लेकिन बाद में भी कोई हिम्मत न करे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co