गिरिजा शंकर की पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में शामिल हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान
गिरिजा शंकर जी की पुस्तक का विमोचन कार्यक्रमSocial Media

गिरिजा शंकर की पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में शामिल हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने आज वरिष्ठ पत्रकार गिरिजा शंकर जी की दो पुस्तकों 'समकालीन राजनीति मध्यप्रदेश' और 'चुनावी राजनीति मध्यप्रदेश' का विमोचन किया।

भोपाल, मध्य प्रदेश। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने आज भोपाल में गणमान्य हस्तियों की उपस्थिति में वरिष्ठ पत्रकार गिरिजा शंकर जी की दो पुस्तकों 'समकालीन राजनीति मध्यप्रदेश' और 'चुनावी राजनीति मध्यप्रदेश' का विमोचन किया।

सीएम शिवराज ने कही यह बात:

गिरिजा शंकर जी की पुस्तक का विमोचन कार्यक्रम में शिवराज सिंह ने कहा कि, "पत्रकार मित्र हों या राजनीति में काम करने वाले कार्यकर्ता हों या राजनीति के अध्येता, उनके लिए यह किताब उपयोगी है। इसमें निष्पक्ष विश्लेषण है। मैं अंतरात्मा से यह बात कह रहा हूं कि, गिरिजा शंकर जी जैसे पत्रकार कभी-कभी होते हैं। मैं उनका बहुत आदर करता हूं। उन्होंने इस दौरान कहा कि, आदरणीय गिरिजा शंकर जी को देखता हूं, तो मुझे याद आता है कि, 'मुक्तसग्ङोऽनहंवादी धृत्युत्साहसमन्वित:'। सिद्ध्यसिद्ध्योर्निर्विकार:कर्ता सात्त्विक उच्यते॥"

सीएम शिवराज ने कहा कि, "पत्रकारिता के क्षेत्र में जो निष्पक्ष भाव से देखता हो और लिखता हो। इतने बड़े पत्रकार होने के बाद भी मैंने सदैव गिरिजा शंकर जी को अहंकार से दूर देखा। उन्होंने कहा कि, "मध्यप्रदेश की राजनीति की विशेष बात है कि यह कभी व्यक्तिवादी नहीं रही। मध्यप्रदेश ने सदैव राष्ट्रवाद की राजनीति की है, कभी क्षेत्रीय राजनीति नहीं की।"

मुख्यमंत्री ने कहा कि, "माननीय गिरिजा शंकर जी की ये पुस्तकें मध्यप्रदेश की राजनीति की हर परिस्थिति का विश्लेषण करती हैं। आपके विश्लेषण की प्रमाणिकता इतनी है कि चुनाव के परिणाम आते हैं, तो हर न्यूज चैनल आपके विचार जनता तक पहुंचाना चाहता है।"

उन्होंने आगे कहा कि, "गिरिजा भैया की इन पुस्तकों को राजनीतिक कार्यकर्ताओं और अन्य लोगों को भी पढ़नी चाहिये। मैं आपसे आग्रह करता हूं कि आप खूब लीखिये, क्योंकि आपसे बेहतर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ को विरले ही जानते होंगे।"

पत्रकारों को दी बधाई:

सीएम शिवराज ने पत्रकारों बधाई देते हुए कहा कि, "पत्रकार मित्रों, राजनीति क्षेत्र के कार्यकर्ताओं, समाजसेवियों से मैं कहना चाहता हूं कि, गिरिजा शंकर जी की यह किताब जरूर पढ़नी चाहिए। मध्यप्रदेश की राजनीति से निकट यह पुस्तक परिचय कराएगी। मैं इस पुस्तक के प्रकाशन के लिए गिरिजा शंकर जी को बधाई देता हूं।"

गिरजा शंकर ने कही यह बात:

वहीं गिरजा शंकर कार्यक्रम में कहा कि, "मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी लंबे समय छात्र राजनीति में रहे। उस समय मेरी उनसे मुलाकात हुई। आज उनके साथ मेरा नाता भावनात्मक और पारिवारिक रिश्ते के रूप में उभरा है। आज मैं और मेरा परिवार उनके बिना अधूरा है। इस अधूरेपन का अहसास उन्होंने कभी होने नहीं दिया।"गिरिजा शंकर की पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में शामिल हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.