सीएम ने सीधी बस दुर्घटना के संबंध में ली उच्च-स्तरीय बैठक, दिए ये निर्देश
सीएम ने सीधी बस दुर्घटना के संबंध में ली बैठकSocial Media

सीएम ने सीधी बस दुर्घटना के संबंध में ली उच्च-स्तरीय बैठक, दिए ये निर्देश

भोपाल, मध्यप्रदेश : आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निवास पर बैठक ली, सीधी बस दुर्घटना के संबंध में ली उच्च-स्तरीय बैठक में सीएम ने कही ये बातें।

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना संकट के बीच मंगलवार को रामपुरनैकिन थाना क्षेत्र में सीधी से सतना रवाना हुयी बस बाणसागर परियोजना से जुड़ी नहर में गिर गयी थी, इस वजह से 51 यात्रियों की मृत्यु हुयी है। वही हादसे के बाद लगभग सात लोगों को बचा लिया गया था। सीधी बस दुर्घटना को लेकर आज यानि गुरुवार को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निवास पर बैठक ली, सीधी बस दुर्घटना के संबंध में ली गई उच्च-स्तरीय बैठक में सीएम ने कही ये बातें।

सीएम ने दिए ये निर्देश

इस बैठक में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश देते हुए कहा कि दोषियों को किसी भी स्थिति में छोड़ा नहीं जाए, जो गलती करेगा वह दंड पाएगा। सीएम चौहान ने कहा कि वैकल्पिक मार्ग विकसित करने के लिए जल्द से जल्द कार्य योजना बनाकर क्रियान्वयन आरंभ किया जाए। संपूर्ण प्रदेश में बसों की फिटनेस और ओवरलोडिंग के संबंध में अभियान आरंभ हो।

संपूर्ण प्रदेश में बसों की फिटनेस और ओवरलोडिंग के संबंध में अभियान चलाया जाये।

सीएम शिवराज ने कहा-

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा-

आगे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पूरे प्रदेश में घाटों, दुर्गम मार्गों, खराब सड़कों का सर्वे कर आवश्यक कार्रवाई की जाए और दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में आवश्यक उपाय हो। बता दें कि इस बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी अपर मुख्य सचिव जल संसाधन तथा परिवहन एस.एन. मिश्रा, प्रमुख सचिव लोक निर्माण नीरज मंडलोई उपस्थित थे।

आपको बताते चलें कि प्रदेश के सीधी में 16 फरवरी को मध्यप्रदेश के सीधी जिले के रामपुर नैकिन थाना क्षेत्र में यात्रियों से भरी एक बस के बाणसागर नहर में गिरने के कारण बड़ा हादसा हुआ था, ये बस सीधी से सतना जा रही थी, साइड लेते वक्‍त वह पुलिया से सीधे नहर में जा गिरी।

नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें पूरी खबरें-

सीधी बस हादसा : चार और शव मिले, मृतकों की संख्या बढ़कर 51 हुई

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co