चिरायु अस्पताल के वीडियो केस में कलेक्टर का सख्त रुख, किया नोटिस जारी
चिरायु अस्पताल के वीडियो केस में कलेक्टर का सख्त रुखSocial Media

चिरायु अस्पताल के वीडियो केस में कलेक्टर का सख्त रुख, किया नोटिस जारी

भोपाल, मध्यप्रदेश : राजधानी के चिरायु अस्पताल के डॉक्टर का वीडियो जारी होने के मामले में अब कलेक्टर अविनाश लवानिया ने नोटिस जारी किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। वैश्विक महामारी कोरोना का संकट जहां थमा नहीं है वही संकट के दौर में अस्पतालों के अमानवीय चेहरे सामने आ रहे हैं इस बीच ही राजधानी के चिरायु अस्पताल के डॉक्टर का वीडियो जारी होने के मामले में अब कलेक्टर अविनाश लवानिया ने नोटिस जारी करते हुए तीन दिन में देने की बात कही है। जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

डॉक्टर ने वीडियो जारी कर दी सफाई

इस संबंध में, चिरायु अस्पताल के डॉ. अजय गोयनका ने वीडियो के माध्यम से सफाई देते हुए कहा कि, 'वीडियो वायरल करने वाले लड़के की मां 19 अप्रैल से अस्पताल में भर्ती है। सरकार का आदेश 7 मई को आया। इसके बाद से चिरायु मेडिकल कॉलेज में आयुष्मान के तहत आने वाले लाभार्थियों को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। साथ ही कहा कि, मुझे खेद है कि एक सोशल वर्कर ने जो बात मेरे नाम से कही है, वह गलत है। आगे भी योजना के तहत मरीजों को इलाज उपलब्ध करवाया जाएंगा। मैं वीडियो का खंडन करता हूं।'

डॉक्टर ने वीडियो में कही थी ये बात

इस संबंध में, वीडियो के तहत डॉक्टर सरकार की कार्रवाई से बेख़ौफ़ होकर मरीज के परिजन को साफ़ शब्दों में बोलता नज़र आ रहा है यहां सरकार का कोई आदेश नहीं चलेगा। आयुष्मान कार्ड से यहाँ पर इलाज नहीं किया जाएगा। धमकाते हुए लहजे में डाक्टर बोलता नज़र आ रह है कि, मरीज़ के परिजन से बनाओ विडियो में जवाब देता हूं। वीडियो में डॉक्टर गोयनका है जो अस्पताल में आयुष्मान कार्ड मान्य नहीं होगा। डॉक्टर द्वारा विडियो के बाद परिजन को गार्ड से धक्का देकर बाहर निकालने के आदेश दिए गए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co