संक्रमण की वृद्धि दर कम करने के लिए राजधानी हुई सतर्क
संक्रमण की वृद्धि दर कम करने के लिए राजधानी हुई सतर्क|Social Media
मध्य प्रदेश

संक्रमण की वृद्धि दर कम करने के लिए राजधानी हुई सतर्क, कार्य शुरू

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना से बचाव और उसके संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने युद्ध स्तर पर किया कार्य शुरू।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में कोरोना के संक्रमित मामलों की रफ्तार जहां धीमी होने का नाम नहीं ले रही है वहीं इस संक्रमण की रफ़्तार को रोकने का प्रयास भी किए जा रहे हैं इसके चलते ही राजधानी में कोरोना से बचाव और उसके संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने युद्ध स्तर पर कार्य शुरू कर दिया है, जहां कई क्षेत्रों में रणनीति के साथ कार्य किए जा रहे हैं।

मिली आधिकारिक जानकारी के अनुसार भोपाल के कंटेन्मेंट क्षेत्र में सभी व्यक्तियों की मेडिकल स्क्रीनिंग लगातार जारी है। लोगों की फीवर क्लिनिक में जांच की जा रही है। यहाँ संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिये सब्जी विक्रेताओं की मेडिकल स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके साथ ही लोगों के दैनिक जीवन के लिए आवश्यक वस्तुओं के सुरक्षित परिवहन, वितरण और सबको सुरक्षित रखने के लिये लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

आपको बता दें कि,भोपालवासियों को फल और सब्जियां स्वस्थ हाथों से पहुंचाने के उद्देश्य से जिले की फंदा तहसील की थुआखेडा सब्जी विक्रय केंद्र पर आज तड़के थोक सब्जी विक्रेताओं और क्रेताओं की मेडिकल स्टाफ द्वारा मेडिकल स्क्रीनिंग की गई। जांच के दौरान संभावित लक्षणों के आधार पर आवश्यक सैंपलिंग की कार्यवाही की जा रही है।

साथ ही लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभाग की गाइडलाइन अनुसार कंटेनमेंट क्षेत्र के जिला प्रशासन द्वारा सभी संभावित आसपास के कोर और बफर जोन में सभी व्यक्तियों की मेडिकल स्क्रीनिंग की जा रही है। इसी क्रम में आज सुबह द्वार का धाम गांधीनगर क्षेत्र में मेडिकल टीम द्वारा घर घर जाकर थर्मल स्क्रीनिंग की गई। स्वास्थ्य जांच के दौरान सर्दी, खांसी, गले में दर्द जैसी शिकायत मिलने या लक्षण दिखने पर सैंपल लिए जा रहे हैं।

इसके अलावा भोपाल को कोरोना मुक्त बनाने के लिए आज नगर निगम द्वारा हॉटस्पॉट बने जहांगीराबाद और बरखेड़ी क्षेत्र में मार्गो और गलियों में सैनिटाइजेशन कार्य किया गया। घर के बाहर रखे सामानों के साथ-साथ वाहनों के ऊपर भी छिड़काव किया गया। जिला प्रशासन द्वारा सार्वजनिक स्थान जैसे बस स्टैंड, सार्वजनिक चौराहे, मुख्य मार्केट आदि स्थानों पर पर्याप्त स्वच्छता और सेनेटाइजेशन किया जा रहा है, पोस्टर पम्पलेट के माध्यम से लोगों को बचाव के लिए आवश्यक जानकारी दी जा रही है।

आपको बता दें कि, इसी तरह ई-पास लेकर जाने वाले यात्रियों के लिए आरोग्य सेतु ऐप अनिवार्य किया गया है। मेडिकल सुविधा के लिये ओला और उबेर एम्बुलेंस टेक्सी की ऑनलाइन सुविधा भी दी गई है। जिला प्रशासन और शहरवासियों के सांझे प्रयास निश्चित ही जल्द ही कोरोना मुक्त भोपाल बनाएंगे। जिला प्रशासन की इस मुहिम को लोगों द्वारा सराहा जा रहा है।

डिस्क्लेमर: यह आर्टिकल न्यूज एजेंसी फीड के आधार पर प्रकाशित किया गया है। सिर्फ शीर्षक में बदलाव किया गया है। अतः इस आर्टिकल अथवा समाचार में प्रकाशित हुए तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co