Bhopal : कलेक्टर की पहल पर एक हजार से अधिक स्कूलों को दीवाली का तोहफा
कलेक्टर की पहल पर एक हजार से अधिक स्कूलों को दीवाली का तोहफाSyed Dabeer Hussain - RE

Bhopal : कलेक्टर की पहल पर एक हजार से अधिक स्कूलों को दीवाली का तोहफा

पिछले करीब 3 साल से आरटीई के तहत प्रवेशित गरीब बच्चों की फीस प्रतिपूर्ति राशि का भुगतान हुआ है। त्योहार के एक दिन पहले संस्था संचालकों के खातों में तकरीबन 20 करोड़ रुपए की धनराशि पहुंचाई गई है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। जिला कलेक्टर की पहल पर राजधानी के एक हजार से अधिक प्राइवेट स्कूल संचालकों को दीवाली का बड़ा तोहफा मिला है। पिछले करीब 3 साल से आरटीई के तहत प्रवेशित गरीब बच्चों की फीस प्रतिपूर्ति राशि का भुगतान हुआ है। त्योहार के एक दिन पहले संस्था संचालकों के खातों में तकरीबन 20 करोड़ रुपए की धनराशि पहुंचाई गई है।

भोपाल में जिला शिक्षा केंद्र के अधिकारियों का कहना है कि त्योहार के पहले भोपाल के 1193 स्कूलों में दर्ज 51 हजार 416 गरीब बच्चों की फीस राशि स्कूल संचालकों के खातों में पहुंचाई गई है। यह सभी बच्चे आरटीई के तहत 25 फीसदी कोटे में दर्ज किए गए हैं। इन बच्चों के संख्या अनुपात में 20 करोड़ 83 लाख 82 हजार 275 रुपए की धनराशि स्कूल संचालकों के खाते में डाली गई है।

डीपीसी राजेश बाथम ने बताया कि भोपाल कलेक्टर एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के निर्देशन में फीस प्रतिपूर्ति के प्रकरणों का निराकरण किया गया है। उन्होंने बताया कि पिछले सितंबर माह के दौरान भी इन स्कूलों के खातों में 21 करोड़ 1 लाख 18 हजार 575 की राशि भेजी गई थी। फीस के लिए जितने भी स्कूलों के प्रकरण अभी लंबित हैं। राज्य शिक्षा केंद्र से आवंटन प्राप्त होने के बाद तत्काल यह राशि उनके खातों में पहुंचाई जाएगी। उन्होंने बताया है कि वर्ष 2016-2017 से 2020 तक के फीस प्रकरणों का निराकरण हो चुका है। अब जितने भी प्रकरण लंबित हैं। उनका शीघ्र समाधान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। फीस प्रतिपूर्ति की राशि स्कूलों के खातों में पहुंचाने में जिला शिक्षा केंद्र की पूरी टीम द्वारा क्षमता से अधिक कार्य किया गया है। जिसके परिणाम है कि त्योहार के पहले स्कूल संचालकों के खातों में राशि पहुंच पाई है। इधर यह भी बताना होगा कि वर्ष 2016 से फीस प्रतिपूर्ति का निराकरण ना होने के कारण स्कूल संचालक प्रदेश भर में आंदोलन करते रहे हैं। भोपाल में संस्था संचालकों के आंदोलन को जिला कलेक्टर द्वारा गंभीरता से लिया गया था। स्कूल संचालकों को भी उन्होंने भरोसा दिया था कि दीवाली के पहले उनकी समस्या का समाधान होगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co