गुणवत्ता सर्टिफिकेट देने वाली कंपनी के खिलाफ केस दर्ज
गुणवत्ता सर्टिफिकेट देने वाली कंपनी के खिलाफ केस दर्ज |Deepika Pal -RE
मध्य प्रदेश

गुणवत्ता सर्टिफिकेट देने वाली कंपनी के खिलाफ केस दर्ज

भोपाल, मध्यप्रदेश: प्रदेश में मिलावटखोरों पर सरकार द्वारा सख्त कार्रवाई करने के बाद भी खाद्य पदार्थो में मिलावट करने के मामले आ रहे हैं सामने।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। प्रदेश में मिलावटी खाद्य पदार्थो की बिक्री और मिलावटखोरों पर लगाम कसने के लिए कमलनाथ सरकार द्वारा सख्त कार्रवाईयां की जा रही हैं, जिसमें जहां शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया जा रहा है वहीं राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत मिलावटखोरों पर केस भी दर्ज किए जा रहे हैं, इसके बाद भी खाद्य पदार्थो में मिलावट करने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इसके चलते ही खाद्य पदार्थो की गुणवत्ता निर्धारित करने वाली कंपनी NCDEX पर काली मिर्च की बिक्री में मिलावट करने का मामला EOW ने दर्ज किया, जिसके तहत कंपनी के CEO आर रामाशेषन सहित अन्य लोगों के खिलाफ प्राथमिक जांच शुरू की है। बता दें कि बैतूल जिले की एक कंपनी ने इस मामले की शिकायत की थी।

क्या है मामला :

जानकारी के मुताबिक, बैतूल की ऑयल लिमिटेड कंपनी ने EOW के पास शिकायत दर्ज कराई गयी थी कि, कंपनी ने NCDEX से काली मिर्च की खरीदी थी जिसे डिलीवरी से पहले लैब में परीक्षण कराया था, जांच में पाया गया कि काली मिर्च में जला हुआ खनिज तेल मिला हुआ है। जिसके बाद जब ऑयल लिमिटेड कंपनी ने काली मिर्च लेने से मना किया और NCDEX से 72 करोड़ रूपए वापस मांगे तो कंपनी ने पैसे वापस नहीं किए, जिस पर कंपनी ने इस मामले की शिकायत EOW के पास दर्ज कराई। जिसके बाद EOW ने शिकायत के आधार पर NCDEX कंपनी के सीईओं आर रामाशेषन समेत अन्य लोगों पर मामला दर्ज करते हुए प्राथमिक जांच शुरू की है। बता दें कि बैतूल की कंपनी ने साल 2012 में 1729.91 टन काली मिर्च की खरीदी NCDEX से की थी।

जाने-माने विक्रेता हैं NCDEX :

बता दें कि, NCDEX खाद्य साम्रगी के मुख्य विक्रेता होने के साथ ही गुणवत्ता की गारंटी देने वाली संस्था भी है जिससे देशभर की कंपनियां, सरकारें समेत प्रतिष्ठित संस्थाए वेबसाइट के माध्यम से ऑक्शन की दरों पर सामग्रियों की खरीदी करते हैं। वहीं कंपनी द्वारा अलग-अलग ग्रेड के पैमाने निर्धारित कर गुणवत्ता का सर्टिफिकेट भी दिया जा चुका है। जिसके तहत कंपनी ने काली मिर्च को मलाबार ए-वन ग्रेड का सर्टिफिकेट भी जारी किया है इस मामले के बाद जिन कंपनियों ने इस मिलावटी काली मिर्च को बाजार में बेचा है उनके पैसे बाजार में फंस गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co