Raj Express
www.rajexpress.co
तीन गुटखा कंपनियों पर छापा
तीन गुटखा कंपनियों पर छापा|Social Media
मध्य प्रदेश

गुटखा कारोबारियों पर गिरी गाज, होगी करोड़ों की राजस्व वसूली

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार के द्वारा माफियाओं पर कार्यवाही लगातार जारी है। ईओडब्ल्यू की गुटखा कंपनियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

हाइलाइट्स :

  • मामला मध्यप्रदेश के भोपाल का

  • शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत हुई कार्यवाही

  • ईओडब्ल्यू की गुटखा कंपनियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही

  • ईओडब्ल्यू ने तीन गुटखा कंपनियों के पर मारा छापा

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार के द्वारा माफियाओं पर कार्यवाही लगातार जारी है। मुख्यमंत्री कमलनाथ की हरी झंडी मिलने के बाद जांच एजेंसी ने की शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत कार्यवाही। मिली जानकारी के अनुसार, आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने तीन गुटखा कंपनियों के गोविंदपुरा स्थित फैक्ट्रियों पर मारा छापा गया। देर रात शुरू हुई ये कार्रवाई अब भी जारी है।

कार्यवाही के बाद शहर में मचा हड़कंप

एमपी ई बी स्टेट जीएसटी खाद्य विभाग और ईओडब्ल्यू की संयुक्त कार्यवाही गोविंदपुरा में चल रही कार्यवाही तीनों कंपनियों के यहां छापे में मिले हैं 100 करोड़ से अधिक का स्टॉक मिला। भारी मात्रा में गुटखे में मिलावट भी पाई गयी। शुरुआती अनुमान के अनुसार 400 से 500 करोड़ रूपए का टैक्स चोरी का मामला सामने आया है मौके पर जो मशीनें लगाई गई हैं उन मशीनों से कई ज्यादा अधिक उत्पादन फैक्ट्रियों में किया जा रहा है बिजली कंपनी भी बिजली की खपत के अनुसार अनुमान लगा रही है।

करोड़ों रुपए के टैक्स चोरी का मामला सामने आया

आपको को बता दें कि मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में ईओडब्ल्यू की गुटखा कंपनियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही की है। टीम राजश्री, कमलापसंद और ब्लैक लेबल गुटखा कंपनियों के ठिकानों पर छापे के दौरान कारखानों में बाल श्रम और करोड़ों रुपए के टैक्स चोरी का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है ईओडब्लू बीते 1 महीने से इन कंपनियों के खिलाफ कार्यवाही करने की तैयारी कर रहा था ।

आपको बताते चलें कि, इससे पहले भी ऐसे मामले आ चुके हैं, नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें खबरें-

'शुद्ध के लिए युद्ध'अभियान-होगी कड़ी कार्यवाही

'शुद्ध के लिए युद्ध अभियान' को ठेंगा दिखाते साँची दूध सप्लायर

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।