शिवराज सरकार के कर्ज लेने के फैसले पर पूर्व मंत्री पटवारी का वार, कही बात

भोपाल, मध्यप्रदेश: हाल में शिवराज सरकार द्वारा एक हजार करोड़ रूपए का कर्ज लेने पर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने जुबानी हमला किया है।
शिवराज सरकार के कर्ज लेने के फैसले पर पूर्व मंत्री पटवारी का वार, कही बात
सरकार के कर्ज लेने के फैसले पर पूर्व मंत्री पटवारी का वारSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी कोरोना का संकट जहां छंटने लगा है वहीं दूसरी तरफ सियासी जगत में पक्ष और विपक्ष के बीच बयानबाजी का दौर भी जारी है इसे लेकर ही हाल में शिवराज सरकार द्वारा एक हजार करोड़ रूपए का कर्ज लेने पर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने जुबानी हमला किया है, कहा कि, 7 महीने में 10500 करोड़ का कर्ज लिया, प्रदेश के हर नागरिक पर 34 हजार का कर्ज है।

पूर्व मंत्री पटवारी का बयान

इस संबंध में ट्वीटर के माध्यम से ट्वीट करते हुए पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने कहा कि, चुनाव के दौरान दोनों ही पार्टियों ने अपनी-अपनी बातें रखीं। अब जनादेश पेटियों के भीतर है। जो निर्णय होगा हमें मंजूर होगा। आशा है लोकतंत्र की हत्या के खिलाफ आपका मत रहा होगा। जहां प्रदेश में आर्थिक स्थिति ऐसी हो गई कि, शिवराज सिंह चौहान ने एक हजार करोड़ रुपए का फिर से कर्ज लिया है। इससे पता चल रहा है कि हमारा प्रदेश कहां जा रहा है।

कोरोना से पनपे आर्थिक संकट से निपटने के लिए सरकार ने लिया कर्ज

इस संबंध में बताते चलें कि, हाल ही में शिवराज सरकार 30 दिन में चौथी बार बाजार से 1 हजार करोड़ रुपए का कर्ज लिया है। जहां इससे पहले ही 7, 13 और 21 अक्टूबर को सरकार ने बाजार से 1-1 हजार करोड़ रुपए का कर्ज लिया था। बताया जा रहा है कि, सरकार अपने 7 माह के कार्यकाल में 9वीं बार कर्ज ले रही है। इसे लेकर कहा जा रहा है कि, सरकार की आर्थिक स्थिति पहले से ही खराब थी वहीं कोरोना के कारण हालात खराब हो गए। राजस्व में कमी आने के साथ ही जीएसटी में भी कमी आई है। जहां सरकार द्वारा विकास कार्यों के लिए कर्ज लिया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co