मजदूरों की मौत पर पूर्व मंत्री शर्मा ने सरकार को घेरा
मजदूरों की मौत पर पूर्व मंत्री शर्मा ने सरकार को घेरा|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

मजदूरों की मौत पर पूर्व मंत्री शर्मा ने सरकार को घेरा और की यह मांग

मध्य प्रदेश में कोरोना का संकट और वहीं राजनीतिक जगत में भी किसी ना किसी मुद्दे को लेकर बयानबाज़ी का दौर के बीच प्रदेश के पूर्व जनसंपर्क मंत्री सरकार को घेरा

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्य प्रदेश में कोरोना का संकट जहां चरम पर पहुंच रहा है वहीं राजनीतिक जगत में भी किसी ना किसी मुद्दे को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच में बयानबाज़ी का दौर जारी रहता है इसके चलते ही प्रदेश के पूर्व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने गुना में हुई मजदूरों की मौत को दुर्भाग्यपूर्ण बताया तो वहीं सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल भी उठाए हैं।

पूर्व मंत्री शर्मा के सरकार पर तीखे प्रहार

इस सम्बन्ध में, प्रदेश के पूर्व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने बयान जारी करते हुए कहा कि, गुना में हुई मजदूरों की मौत दुर्भाग्यपूर्ण है या तो मध्यप्रदेश के मजदूर या जो मजदूर मप्र से गुजर रहे हैं उनकी मौत हो रही है। यह प्रदेश के लिए बेहद दुखद है जिसके लिए सरकार को सभी मृतकों के परिवारों को एक एक करोड़ की राहत राशि देनी चाहिए।

शिवराज सरकार के नाम लिखा पत्र

इस सम्बन्ध में, अस्थिर स्थिति पर संज्ञान लेने के लिए जहां शिवराज सरकार को पत्र लिखा वहीं सरकार से सख्त कदम उठाने की मांग भी की गई है। साथ ही भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा के कोरोना काल मे गायब होने पर कहा कि, यह भोपाल की जनता का दुर्भाग्य है, जब सांसद को जनता की मदद के लिए आगे आना था तब वो गायब हैं और जो दिग्विजयसिंह चुनाव हार गए थे वो लगातार जनता की मदद के लिए मैदान में हैं।

मंत्रालय से बाहर निकलकर देखें सीएम- मंत्री शर्मा

इस सम्बन्ध में, मंत्री शर्मा ने कहा कि, मुख्यमंत्री शिवराज को मंत्रालय से बाहर निकलना चाहिए, लोगों से मिलना चाहिए उनकी परेशानियों को दूर करना चाहिए, मुख्यमंत्री शिवराज क्यों मंत्रालय से बाहर नहीं आ रहे हैं, शिवराज जी तो कहते हैं कि कोरोना ज्यादा खतरनाक नहीं है, जब खतरनाक नहीं है तो फिर क्यों लॉकडाउन जारी है उसे हटा देना चाहिए। साथ ही अन्य मामले कमलनाथ सरकार के फैसलों की जांच के मंत्रियों की समिति पर कहा कि, ये आठवां आश्चर्य है, बीजेपी में आगे-आगे देखिए होता है क्या, अभी तो बहुत कुछ देखने को मिलेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co