Bhopal : कन्या विवाह एवं निकाह योजना को दें नया स्वरूप
सीएम ने की सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग की समीक्षाSocial Media

Bhopal : कन्या विवाह एवं निकाह योजना को दें नया स्वरूप

भोपाल, मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नशामुक्त समाज का निर्माण करने के लिए समाज को जागरूक किया जाना चाहिए। नशामुक्ति सुधार के लिए जन-जागृति के साथ प्रचार-प्रसार भी किया जाए।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि, नशामुक्त समाज का निर्माण करने के लिए समाज को जागरूक किया जाना चाहिए। सामाजिक सुधार के लिए आवश्यक है कि आमजन को नशे से होने वाले नुकशान से अवगत कराएं। नशामुक्ति सुधार के लिए जन-जागृति के साथ प्रचार-प्रसार भी किया जाए। श्री चौहान बुधवार को यहां मंत्रालय में सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में पशुपालन, सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री प्रेम सिंह पटेल और प्रमुख सचिव प्रतीक हजेला मौजूद थे।

दिव्यांगों के बनाए यूडीआईडी कार्ड :

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी दिव्यांगों के यूडीआईडी कार्ड बनाए जाएं। कलेक्टर कांफ्रेंस में भी इस पर चर्चा की जायेगी। जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र एवं भोपाल स्थित पेड ओल्ड ऐज होम का निर्माण समय-सीमा में पूर्ण किया जायें। इनके संचालन के लिए ऐसी नीतियां बनाये जिससे सेवाभावी संस्थानों की मदद ली जा सके। वृद्धाश्रम और अनाथालय एक ही परिसर में संचालित हो, जिससे भावनात्मक लगाव एवं सुरक्षा बेहतर हो सके। श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी ट्रांसजेंडर व्यक्तियों को पहचान प्रमाण-पत्र जारी किए जाएं। कन्या विवाह एवं निकाह योजना को नया स्वरूप दें।

दिव्यांग और वरिष्ठजनों के लिए मोबाइल एप :

बैठक में बताया गया कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश रोडमैप के अनुसार दिव्यांग और वरिष्ठजनों को अधिकांश सेवाएँ उपलब्ध कराने के लिए मोबाईल एप विकसित किया जा रहा है। आईटीआई संस्थाओं में दिव्यांगजन के लिए स्वीकृत कुल पाचं छात्रावास भवनों में से ग्वालियर भवन का पूर्ण हो चुका है। उज्जैन एवं रीवा में भवन निर्माण 75 प्रतिशत और सागर, जबलपुर में 40 प्रतिशत कार्य हो चुका है। इन भवनों का निर्माण दिसंबर 2022 तक पूर्ण कर लिया जाएगा। प्रदेश में स्वीकृत 8 विशेष विद्यालयों में ग्वालियर का भवन पूर्ण हो चुका है, शेष 7 विशेष विद्यालयों के भवनों का निर्माण भी दिसम्बर माह के अंत तक पूर्ण किया जाएगा। बताया गया कि 50 शीटर वाले 11 वृद्धाश्रम का निर्माण प्रगति पर है। भोपाल के 43 एवं इंदौर के 50 शासकीय भवनों को बाधारहित किया जा रहा है। भोपाल स्थित पेड ओल्ड ऐज होम भवन का निर्माण प्रगति पर है, जो जुलाई 2022 तक पूर्ण होगा। संचालनालय भवन एवं राज्य पुर्नवास केन्द्र का निर्माण अंतिम चरण है जो 30 जनवरी 2022 तक पूर्ण हो जायेगा। समस्त पेंशन योजना में अभियान चलाकर पात्रता का सत्यापन कराया जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co