कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया
कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया|Social Media
मध्य प्रदेश

सिंधिया की अवैधानिक तरीके से बैठक लेने पर हुई शिकायत

ग्वालियर, मध्यप्रदेश: कांग्रेस नेता सिंधिया द्वारा अधिकारियों की बैठक लेने के मामले ने पकड़ा तूल, राजभवन ने दिए नियमानुसार कार्यवाही करने के आदेश।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अपने राज निवास पर अधिकारियों की बैठक लेने वाले मामले ने तूल पकड़ लिया है, मामला राज्यपाल के पास जाने के बाद इस पर कार्यवाही करने के आदेश जारी किए गए। बता दें कि इस मामले की शिकायत ग्वालियर हाईकोर्ट के एडवोकेट अवधेश सिंह तोमर ने प्रदेश के राज्यपाल से की थी।

क्या है मामला :

बता दें कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार जहां अपने स्तर पर कार्य रही है वही अब कांग्रेस के महासचिव सिंधिया भी एक्शन मोड में आ गए है। जिसके तहत सिंधिया ने कुछ दिनों पहले ही अपने निवास जयविलास पैलेस में शहर विकास और स्मार्ट सिटी से जुड़े कार्यों के संबंध में कलेक्टर, कमिश्नर, स्मार्ट सिटी के ऑफिसर्स की मीटिंग ली थी, वहीं उसके बाद कलेक्ट्रेट में शहर विकास को लेकर भी बैठक की गई थी। जिसे लेकर ग्वालियर हाईकोर्ट के एडवोकेट अवधेश सिंह तोमर ने प्रदेश के राज्यपाल से की थी कि , महासचिव सिंधिया के पास कोई संवैधानिक पद नहीं है तो वे अधिकारियों की बैठक कैसे ले सकते हैं? जो कि गलत है और अवैधानिक है। जिसके बाद यह मामला गरमा गया था।

राज्यपाल ने दिए जांच के आदेश :

इस संबंध में मामला राजभवन में राज्यपाल के पास पहुंचने के बाद इस पर कार्यवाही की गई है। जिसमें राज्यपाल लालजी टंडन ने शिकायत पर कार्यवाही करते हुए सामान्य प्रशासन विभाग के अपर मुख्य सचिव को नियमानुसार जांच और कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co