कोरोना संकट के बीच सांकेतिक हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर, सरकार से की मांग
कोरोना संकट के बीच सांकेतिक हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टरDeepika Pal- RE

कोरोना संकट के बीच सांकेतिक हड़ताल पर गए जूनियर डॉक्टर, सरकार से की मांग

भोपाल, मध्यप्रदेश: आज राजधानी के हमीदिया अस्पताल के जूनियर डॉक्टर सांकेतिक हड़ताल पर अड़ गए है। जहां अस्पताल के परिसर में डॉक्टरों ने ओपीडी लगाई है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में कोरोना संक्रमण से जहां स्थिति बिगड़ी हुई है वहीं दूसरी तरफ अपनी मांगे पूरी नहीं होने के चलते अस्पतालों के डॉक्टर और स्टाफ द्वारा हड़ताल की जा रही है। इस बीच ही आज राजधानी भोपाल के हमीदिया अस्पताल के जूनियर डॉक्टर सांकेतिक हड़ताल पर अड़ गए है। जहां अस्पताल के परिसर में डॉक्टरों ने ओपीडी लगाई है। यही से जूनियर डॉक्टर मरीजों को देख रहे है।

जूडा एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कही ये बात

इस संबंध में मामले को स्पष्ट करते हुए जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन के मध्य प्रदेश और भोपाल के अध्यक्ष डॉ. अरविंद मीणा ने बताया कि, बढ़ते कोरोना संक्रमण के प्रभाव को देखते हुए मरीजों के हित में हड़ताल नहीं करना चाहते। इधर सरकार मरीजों के साथ ही डॉक्टरों की सुरक्षा और सुविधा के लिए कुछ कदम नहीं उठा रही है। इसे लेकर हमें विरोध स्वरूप सांकेतिक हड़ताल का कदम उठाना पड़ा। वहीं आगे बताया कि, 12 अप्रैल तक हड़ताल जारी रहेगी। जिसके लिए चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग से बात करेगें सहमति नहीं बनने पर हम 13 अप्रैल से इमरजेंसी सेवा और कोविड मरीजों का इलाज बंद कर देंगे। जहां किसी भी समस्या की जवाबदारी सरकार पर होगी।

सरकार से जूनियर डॉक्टरों की यह है मांग

इस संबंध में बताते चले कि, सरकार के खिलाफ हड़ताल करने के मुख्य कारणों में जूनियर डॉक्टरों की मांग है जिसे पूरा करने पर डॉक्टर अड़े हुए है। जिसमें बताते चलें कि, पिछले साल मुख्यमंत्री ने कोरोना वारियर को 10 हजार रुपए प्रतिमाह सम्मान निधि देने का वादा किया था, एक साल बाद भी कोरोना वारियर को राशि नहीं मिली। वहीं हमीदिया अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए बेड बढ़ाए जा रहे है, जबकि अस्पताल में नॉन कोविड मरीजों के लिए स्पेशल इलाज की सुविधा है। इस स्थिति में गरीब नॉन कोविड मरीजों के लिए भी इलाज की सुविधा के लिए जगह रखने की बात कर रहे थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co