विवादों में घिरी जेल प्रहरी भर्ती प्रक्रिया
विवादों में घिरी जेल प्रहरी भर्ती प्रक्रिया|Deepika Pal-RE
मध्य प्रदेश

विवादों में घिरी जेल प्रहरी भर्ती प्रक्रिया, सिक्किम को बताया अलग देश

भोपाल, मध्यप्रदेश : सरकार ने विभिन्न पदों पर जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा की प्रक्रिया शुरू की थी जिस पर आवेदन शुरू होने से पहले ही विवादों में घिर गई है।

Deepika Pal

Deepika Pal

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी कोरोना का प्रकोप जहां थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं संकटकाल के बीच नौकरी की आस लगाए बैठे शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए सरकार ने विभिन्न पदों पर जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा की प्रक्रिया शुरू की थी जिस पर आवेदन शुरू होने से पहले ही विवादों में घिर गई है जहां हाल ही में प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) ने जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा-2020 की रूलबुक जारी की है। जिसमें सिक्किम को भारत का हिस्सा ना बताकर अलग देश बताया गया है।

रुल बुक में सिक्किम को बताया अलग देश

इस संबंध में, पीईबी द्वारा जारी रूल बुक में अंदर जानकारी देते हुए लिखा गया कि, इस जानकारी के अनुसार नियुक्ति के लिए उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए। साथ ही लिखा है कि सिक्किम की प्रजा होना चाहिए। भारतीय मूल का कोई ऐसा व्यक्ति होना चाहिए, जो भारत में स्थाई रूप से बसने के अभिप्राय से पाकिस्तान से आया हो। साथ ही यह भी लिखा है कि नेपाल की या भारत स्थित किसी पुर्तगाली या फ्रांसीसी प्रदेश की प्रजा होना चाहिए। आपको बताते चलें कि , ये भर्ती ऑल इंडिया स्तर पर 282 पदों पर निकाली गई है।

रुल बुक में सिक्किम को बताया अलग देश
रुल बुक में सिक्किम को बताया अलग देश Social Media

उम्र को लेकर भी उठा विवाद

इस संबंध में, अन्य मामले में रूल बुक में उम्र लेकर भी विवाद उठा है जहां उम्मीदवारों ने सवाल उठाते हुए कहा कि,जो लंबे समय से भर्ती का इंतजार कर रहे थे। वह ओवरएज होने की वजह से भर्ती नहीं हो पाएंगे। वहीं वर्गवार आरक्षण के साथ ही ऑल इण्डिया स्तर पर भर्ती निकालने पर भी विवाद की स्थिति बनी है। उम्मीदवारों का कहना है कि,मप्र के युवाओं को अवसर नहीं मिलेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co