कोरोना योद्धा का दर्जा देने के लिए मंत्री परमार को लिखा पत्र
कोरोना योद्धा का दर्जा देने के लिए मंत्री परमार को लिखा पत्र|Social Media
मध्य प्रदेश

शिक्षकों को कोरोना योद्धा का दर्जा देने के लिए मंत्री परमार को लिखा पत्र

भोपाल, मध्यप्रदेश: एक बार फिर प्रदेश के शिक्षकों ने कोरोना योद्धा का दर्जा पाने के लिए आवाज उठाई, शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार को भी पत्र लिखा गया है।

Shahid Kamil

भोपाल, मध्यप्रदेश। एक बार फिर प्रदेश के शिक्षकों ने कोरोना योद्धा का दर्जा पाने के लिए आवाज उठाई है। इस संदर्भ में शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार को भी पत्र लिखा गया है।शिक्षक नेता महावीर प्रसाद शर्मा का कहना है कि, प्रदेश के शिक्षक ड्यूटी के दौरान कोरोना से संक्रमित हो रहे है। जिस कारण ड्यूटी के दौरान इस महामारी से प्रभावित होने पर दर्जनों शिक्षक की मौत हो गई।

प्रदेश का शिक्षक शासन प्रशासन का हर आदेश का पूरी निष्ठा के साथ पालन कर रहा है। विगत माहो से शिक्षक घर घर जाकर प्रतिदिन मोहल्ला क्लासेस लगा रहा है। जबकि वर्तमान स्थिति बडी भयानक बनी हुई है। प्रतिदिन कोरोना रोगी बढ रहे है। ऐसी स्थिति में भी प्रदेश का शिक्षक घर घर जाकर शैक्षिक कार्य एवं कोरोना सर्वे कार्य में ड्यूटी दे रहा हैं। लेकिन सुरक्षा के नाम पर शिक्षकों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। जबकि भारत सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग मंत्रालय की गाइडलाइन के तहत सामान्य प्रशासन विभाग ने अपने कर्मचारियों के लिए कोरोना योध्दा घोषित किया है। लेकिन स्कूल शिक्षा विभाग और आदिम जाति कल्याण विभाग से इस संबंध में कोई दिशा निर्देश प्रसारित नही किया गया है। जिस कारण से ड्यूटी के दौरान इस महामारी से प्रभावित होने पर दर्जनों शिक्षक की मौत हो गई। इस दशा में कोरोना योध्दा का शिक्षको को  कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है।

योद्धा दर्जा पाने के लिए लगातार की जा रही मांग

शिक्षक नेता गिरीश दहायत का कहना है कि  बार बार आग्रह के बावजूद भी शिक्षा विभाग की ओर से आज तक इस संबंध में कोई निर्देश प्रसारित नही किए है। उनका कहना है कि मौजूदा समय शिक्षकों के लिए बड़ी चुनौतियों का है। क्योंकि ने बीमारियों से बचाव करना है और सरकार के आदेशों का पालन भी करना है। इस कारण राज्य शासन को शिक्षकों की पीड़ा समझना चाहिए। शिक्षक नेता अनीता सारस्वत कहती है कि प्रदेश के शिक्षकों को कोरोना योध्दा घोषित किया जाय ताकि अन्य कर्मचारियों की तरह  शिक्षकों को  पूरी सूविधा प्रदान मिल सके ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co