राजधानी में धराया गया नकली नौकरी का मास्टरमाइंड
राजधानी में धराया गया नकली नौकरी का मास्टरमाइंड|Social Media
मध्य प्रदेश

राजधानी में धराया गया, फर्जी दस्तावेज और नकली नौकरी का मास्टरमाइंड

भोपाल, मध्यप्रदेश : प्रदेश में एक ओर बेरोजगारी की संख्या में लगातार वृद्धि देखी जा रही है, वहीं नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी के मामले लगातार आ रहे हैं सामने।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं इसके चलते ही राजधानी में एक और ऐसा मामला सामने आया जहां नौकरी का झांसा देकर हजारों लोगों से करोड़ों रूपयों की ठगी की गई जिस मामले पर बजरिया थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मास्टरमाइंड को योजना के तहत गिरफ्तार किया। आरोपी के पास से पुलिस ने फर्जी दस्तावेजों के साथ आईडी कार्ड बरामद किए हैं।

सबसे बड़ा जालसाज आया पुलिस की गिरफ्त में :

इस मामले में आरोपी मास्टरमाइंड चार्ल्स शोभराज सुधीर रेलवे में टी.सी. की नौकरी दिलवाने के नाम अब तक करीब 2 हजार लोगों से ठगी कर चुका है, जो महाराष्ट्र के भुसावल स्टेशन पर ट्रेनिंग सेंटर चलाकर हजारों लोगों को 2 महीने की ट्रेनिंग देता था जिसके एवज में स्टेशन मास्टर की नौकरी लगवाने के लिए 25 लाख लेता वहीं टी.सी की नौकरी के लिए 15 लाख रूपयों की मांग करता था। आरोपी हजारों लोगों से ठगी करने के बाद राजधानी भोपाल में बदल चुका है 7 किराए के मकान बदल चुका है।

1997 बैच का पुलिस कांस्टेबल रह चुका है आरोपी :

बता दें कि, आरोपी 1997 बैच का पुलिस कांस्टेबल होने के साथ ही किसी वरिष्ठ अधिकारी के रीडर का बेटा है। जिसके पास से बजरिया थाना पुलिस ने रेलवे में नियुक्ति कराने वाले फर्जी दस्तावेज, जॉब वैकेंसी लिस्ट, सील साइन,ज्वाइनिंग लेटर सहित आईडी कार्ड किए बरामद किए हैं। साथ ही महिंद्रा XUV 500 Renault duster भी जप्त की। बता दें कि आरोपी मास्टरमाइंड का एक साथी सरकारी दस्तावेजों को प्रिंट करने में माहिर था जो लोगों को विश्वास दिलाने का कार्य करता था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co