पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा
पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा|Social Media
मध्य प्रदेश

अतिथि विद्वानों का दर्द बांटने पहुंचे मंत्री मिश्रा, दिए आश्वासन

भोपाल, मध्यप्रदेश: प्रदेश के पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा अतिथि विद्वानों से मिलने शाहजहांनी पार्क पहुंचे, कांग्रेस सरकार पर वादाखिलाफी का लगाया आरोप।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में अतिथि विद्वानों का सरकार के खिलाफ नियमितता की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन 28 दिनों से अब तक लगातार जारी है जिसमें सरकार और कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी के आश्वासन के बाद भी अतिथि विद्वान धरने पर बैठे हुए हैं। इसके चलते अब कांग्रेस को अपने वचनपत्र में दिए वादों को याद दिलाने भाजपा के पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा अतिथि विद्वानों के बीच पहुंचे और आश्वासन दिए।

अखंड भ्रष्टाचार में डूबी सरकार है- मंत्री मिश्रा

इस संबंध में अतिथि विद्वानों से मिलने पहुंचे पूर्व मंत्री मिश्रा ने कहा कि, आज अतिथि विद्वानों के बीच आया यहां आकर मन द्रवित हो गया है, अतिथि विद्वानों को यहां धरने पर बैठे आज 29 दिन हो गए लेकिन सरकार का कोई जनप्रतिनिधि यहां सुध लेने नहीं पहुंचा। साथ ही मुख्यमंत्री कमलनाथ और उच्च शिक्षा मंत्री नियमितिकरण की मांग को मानने के आश्वासन देते हैं परन्तु अब तक वादा नहीं पूरा हो पाया है। सरकार ने अपने वचनपत्र में वादा किया था कि अतिथि विद्वानों को नियमित किया जाएगा लेकिन सरकार वादाखिलाफी करती है। सरकार ने किसानों से किए वादों को भी अब तक पूरा नहीं किया है। साथ ही भाजपा की तारीफ करते हुए कहा हमारे केंद्र की मोदी सरकार ने जनता से किए सभी वादों को निभाया है राम मंदिर, नागरिकता संशोधन कानून। प्रदेश सरकार को वादे पूरा करना केंद्र से सीखना चाहिए।

विधानसभा सत्र में उठाया था मुद्दा- मंत्री मिश्रा

मंत्री मिश्रा ने बताया कि, पिछले विधानसभा सत्र में अतिथि विद्वानों के मुद्दे को उठाया गया था और आने वाले सत्र में भी इस मुद्दे को उठाएगें। सरकार वादाखिलाफी करती है जिसके कारण ही कोई वादा अब तक पूरा नहीं हो पाया है। हम सब अतिथि विद्वानों के साथ खड़े हैं, उन्हें जल्द न्याय दिलाएंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co