Raj Express
www.rajexpress.co
स्कूल बस से छात्र के गिरने पर मौत का
स्कूल बस से छात्र के गिरने पर मौत का|Social Media
मध्य प्रदेश

स्कूल बस से गिरा बच्चा, आखिर सोया मौत की नींद

भोपाल, मध्यप्रदेश : राजधानी में वाहनों से हादसों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं, यह मामला स्कूल बस से छात्र के गिरने पर उसकी मौत का है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी में वाहनों से हादसों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं, यह मामला स्कूल बस से छात्र के गिरने पर उसकी मौत का है, 6 वर्ष का छात्र कंडक्टर की लापरवाही से चलती बस से गिर गया था, 39 दिनों से उसका इलाज चल रहा था पर अंततः मासूस जिंदगी की जंग हार गया।

जानिए क्या है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार 6 साल का कृतज्ञ राजीव नगर में रहता था कृतज्ञ कपिल कुमार गौड़ का इकलौता बेटा था। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 15 नवंबर की दोपहर डेढ़ बजे कृतज्ञ को लेने मैं बस स्टॉप पहुंचा, मॉन्ट फोर्ट स्कूल की चलती स्कूल बस से 6 साल के कृतज्ञ गिर गया था।

कंडक्टर ने बोला था झूठ, बच्चों की लड़ाई में हुआ घायल

दोपहर को जब बच्चा लौटा तो घायल शरीर में था। स्कूल बस के कंडक्टर ने बच्चे को नाना की गोद में सौंपते हुए कहा था कि बच्चों की लड़ाई में चोट आई है। जबकि हकीकत कुछ और ही थी।

इस मामले में परिजनों ने दूसरे बच्चों से पता किया

बच्चे के परिजनों ने जब इस हादसे के बारे में दूसरे बच्चों से पूछा तो पता चला कि कृतज्ञ चलती बस से गिर पड़ा था।

6 साल के कृतज्ञ की कूल्हे की हड्डी टूटी थी और बाएं पैर में गंभीर चोट थी। बच्चे को तुरंत अस्पताल ले गए। लेकिन उस अस्पताल में राहत मिलती नजर नहीं आई तो दूसरे अस्पताल ले गए, 39 दिन चले इलाज के बाद आखिरकार कृतज्ञ ने दम तोड़ दिया।

15 नवंबर को कृतज्ञ स्कूल बस से गिर गया था, जिससे उसे गंभीर चोट लगी थी। पहले दिन से लेकर सोमवार शाम तक का पूरा खर्च स्कूल प्रबंधन ने ही उठाया है। इस दौरान करीब 20 लाख रुपए खर्च हुए हैं। बस लीज पर थी। सुरक्षा मानकों को लेकर मैं कुछ नहीं कह सकता हूं।

पंकज विश्वकर्मा, आईटी हेड, मॉन्ट फोर्ट स्कूल

परिजनों का कहना

इस मामले में परिजनों का कहना है कि स्कूल प्रबंधन ने पूरा इलाज करवाया है, इसलिए हम कोई कार्रवाई नहीं चाहते।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।