दूसरे व्यक्ति के प्राण की रक्षा करते हुए विदा हुए त्रिपाठी, CM ने किया नमन
दूसरे व्यक्ति के प्राण की रक्षा करते हुए विदा हुए त्रिपाठीSocial Media

दूसरे व्यक्ति के प्राण की रक्षा करते हुए विदा हुए त्रिपाठी, CM ने किया नमन

भोपाल, मध्यप्रदेश: आज यानि बुधवार को दूसरे व्यक्ति की प्राण की रक्षा करते हुए दुनिया से विदा कर गए नारायण त्रिपाठी को लेकर सीएम शिवराज ने नमन किया है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना का संकट जहां हावी है तो वहीं दूसरी तरफ संकट के माहौल में अच्छी खबरें भी सामने आती जा रही हैं इस बीच ही आज यानि बुधवार को दूसरे व्यक्ति की प्राण की रक्षा करते हुए दुनिया से विदा कर गए नारायण त्रिपाठी को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नमन किया है।

सीएम शिवराज सिंह ने श्रद्धांजलि देते हुए कही बात

इस संबंध में, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए लिखा कि, दूसरे व्यक्ति की प्राण रक्षा करते हुए श्री नारायण जी तीन दिनों में इस संसार से विदा हो गये। समाज और राष्ट्र के सच्चे सेवक ही ऐसा त्याग कर सकते हैं, आपके पवित्र सेवा भाव को प्रणाम! आप समाज के लिए प्रेरणास्रोत हैं। दिव्यात्मा को विनम्र श्रद्धांजलि। ॐ शांति!

दिवंगत त्रिपाठी ने बयान देते हुए कही थी बात

इस संबंध में, दिवंगत त्रिपाठी ने बयान देते हुए कहा कि, “मैं 85 वर्ष का हो चुका हूँ, जीवन देख लिया है, लेकिन अगर उस स्त्री का पति मर गया तो बच्चे अनाथ हो जायेंगे, इसलिए मेरा कर्तव्य है कि मैं उस व्यक्ति के प्राण बचाऊं।'' ऐसा कह कर कोरोना पीड़ित आरएसएस संगठन के स्वयंसेवक श्री नारायण जी ने अपना बेड उस मरीज़ को दे दिया। आपको बताते चलें कि, कोरोना संकटकाल में अस्पतालों में बढ़ते संक्रमण के चलते बेड की कमी से कई मौत हो रही हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co