दशहरे के मौके पर पुलिसकर्मियों ने शस्त्र पूजन कर प्रदेशवासियों को दी बधाई

भोपाल, मध्यप्रदेश : दशहरे पर्व पर भोपाल डीआईजी इरशाद वली ने पारंपरिक पगड़ी और परिधान पहनकर पूरे विधि विधान से शस्त्रों की पूजा की, इस बार अधिकारी समेत सिर्फ 50 पुलिसकर्मी ही रहे।
दशहरे के मौके पर पुलिसकर्मियों ने शस्त्र पूजन कर प्रदेशवासियों को दी बधाई
भोपाल डीआईजी ने पारंपरिक परिधान पहनकर शस्त्रों की पूजा कीSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। कोरोना संकट के बीच इस साल विजयदशमी का पर्व 25 और 26 अक्टूबर यानि दो दिन मनाया जा रहा है। विजयदशमी का पर्व शारदीय नवरात्र के नौ दुर्गा पूजन का आखिरी दिन होता है। इस दिन को बुराई पर अच्छाई की जीत के पर्व के तौर पर मनाया जाता हैं। विजयादशमी का त्यौहार पुलिस के लिए सबसे बड़ा होता है। इस दिन शस्त्रों की पूजा की जाती है। इस बार बहुत कम संख्या में पुलिसकर्मियों ने शस्त्र पूजन किया।

पुलिस ने सादगी से मनाया विजयादशमी का त्यौहार :

मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को भोपाल पुलिस ने नेहरू नगर पुलिस लाइन में शस्त्र पूजन किया गया। डीआईजी इरशाद वली ने पारंपरिक पगड़ी और परिधान पहनकर पूरे विधि विधान से शस्त्रों की पूजा की। पहली बार नेहरू नगर स्थित पुलिस लाइन में सादगी से पूरा आयोजन किया गया, हालांकि कार्यक्रम पूरी तरह से पारंपरिक तरीके से किया गया। इस कार्यक्रम में सिर्फ 50 पुलिसकर्मी ही मौजूद रहे।

पारंपरिक परिधान पहनकर शस्त्रों की पूजा की :

बता दें कि प्रदेश की राजधानी भोपाल के डीआईजी इरशाद वली ने पारंपरिक परिधान पहनकर शस्त्रों की पूजा की, वही बताते चलें कि पहली बार आरएसएस का पथ संचलन का कार्यक्रम नहीं किया, पिछले साल यह 16 जगहों पर किया गया था। इस साल पुलिसकर्मियों ने बहुत कम संख्या में शस्त्र पूजन किया और दशहरे पर्व की प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co