10वीं-12वीं की कक्षाएं जल्द शुरू होने के आदेश होंगे जारी, विभाग लेगा फैसला
10वीं-12वीं की कक्षाएं जल्द शुरू होने के आदेश होगे जारीSocial Media

10वीं-12वीं की कक्षाएं जल्द शुरू होने के आदेश होंगे जारी, विभाग लेगा फैसला

भोपाल, मध्यप्रदेश: स्कूल संचालकों के 14 दिसंबर से आंदोलन करने के अल्टीमेटम के बाद स्कूल शिक्षा विभाग जल्द कोई फैसला ले सकता है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी कोरोना का संकट जहां थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं दूसरी तरफ संकटकाल के बीच साल के अंत में भी स्कूल खोलने को लेकर संशय बना हुआ है इस बीच ही खबर है कि, स्कूल संचालकों के 14 दिसंबर से आंदोलन करने के अल्टीमेटम के बाद स्कूल शिक्षा विभाग जल्द कोई फैसला ले सकता है। जिसके लिए आदेश जारी हो सकते हैं।

आयुक्त कियावत के साथ बैठक में स्कूल संचालकों ने कही बात

इस संबंध में, बीते दिन गुरुवार को प्रदेश लोक शिक्षण संचालनालय की आयुक्त जयश्री कियावत ने स्कूल संचालकों के संगठनों के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान संचालकों ने मांग रखी कि, कक्षा 6वीं से 8वीं तक के स्कूल 1 जनवरी से खोले जाएं। इसके साथ ही बच्चों के अभिभावकों के लिए फीस जमा करने की एक एडवाइजरी जारी हो। इसे लेकर बैठक में उपस्थित केके द्विवेदी ने कहा कि, प्रस्ताव विचाराधीन है, शासन सरकार के आदेश के बाद ही इस पर निर्णय होगा। वहीं बताते चलें कि, अपनी मांग को लेकर स्कूल संचालकों ने 14 दिसंबर से आंदोलन करने का अल्टीमेटम दिया था। जिस पर आयुक्त ने कहा कि, आंदोलन स्थगित कर दीजिए तो स्कूल संचालक बोले- लिखित में आदेश जारी कर दीजिए, हमें आश्वासन नहीं चाहिए। फिलहाल स्कूल खोलने को लेकर आदेश जारी हो सकता है।

साइबर सिक्योरिटी वेबिनार में मंत्री परमार ने कही थी बात

इस संबंध में, बीते दिन आयोजित हुए साइबर सिक्योरिटी वेबिनार में अपनी बात रखते हुए स्कूल शिक्षा मंत्री इंदरसिंह परमार ने कहा कि, दुनिया में मोबाइल और इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या बढ़ी है। ग्रामीण अंचलों में भी आज इंटरनेट का उपयोग किया जा रहा है। उपयोगकर्ताओं की संख्या बढ़ने के साथ-साथ साइबर क्राइम से जुड़े अपराधों में भी वृद्धि हुई है। डिजिटल माध्यम से पैसे के लेनदेन में धोखाधड़ी, ब्लैकमेलिंग, आई डी हैकिंग, डाटा लीक और दुष्प्रचार जैसे अपराधों में वृद्धि हुई है। इन अपराधियों का आसान शिकार हमारे विद्यार्थी होते हैं। इन अपराधों का उन पर मनोवैज्ञानिक रूप से बुरा असर पड़ता है। विद्यार्थियों को साइबर सिक्योरिटी के प्रति सचेत और प्रशिक्षित करने की आवश्यकता है। वहीं सभी से साइबर सिक्योरिटी के उपाय अपनाने और दूसरो को भी इस संबंध में जागरूक करने की अपील की।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co