भोपाल: अपने सरकारी आवास पर पहुंचे सिंधिया, कार्यकर्ताओं ने किया भव्य स्वागत
सिंधिया पहुंचे अपने सरकारी आवास पर Priyanka Yadav-RE

भोपाल: अपने सरकारी आवास पर पहुंचे सिंधिया, कार्यकर्ताओं ने किया भव्य स्वागत

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज सुबह बीजेपी के वरिष्ठ नेता सिंधिया पहुंचे अपने सरकारी निवास पर, भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने सिंधिया का स्वागत फूल माला पहनाकर किया।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एक तरफ जहां मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी हुई है दूसरी तरफ मध्यप्रदेश सरकार द्वारा कई कार्य किए जा रहे हैं वहीं इस बीच राज्यसभा सांसद व बीजेपी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया आज यानि रविवार को मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल पहुंचे, बता दें कि बंगला अलॉट होने के 24 दिन बाद सिंधिया अपने सरकारी निवास पर पहुंचे।

भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया सिंधिया का स्वागत :

बता दें कि भोपाल एयरपोर्ट पर सिंधिया का भाजपा कार्यकर्ताओं और सर्मथकों ने भव्य स्वागत किया, कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने राज्यसभा सांसद व बीजेपी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का स्वागत फूल माला पहनाकर किया। रविवार सुबह ही फ्लाइट से बीजेपी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल पहुंचे, मिली जानकारी के अनुसार ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और मंत्री तुलसी सिलावट भी है।

वरिष्ठ नेता सिंधिया को श्यामला हिल्स पर मिला बंगला B-5 :

बताते चलें कि प्रदेश की राजधानी भोपाल में पूर्व मुख्यमंत्रियों, मंत्रियों और विधायकों को बी और सी टाइप बंगले मिले हैं, जो 1 से 1.50 एकड़ क्षेत्र में फैले हैं। बता दें कि राज्यसभा सांसद व बीजेपी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को श्यामला हिल्स पर बंगला B-5 मिला है, यह बंगला ज्योतिरादित्य सिंधिया को करीब 18 साल के इंतजार के बाद मिला है। मिली जानकारी के मुताबिक अब वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया बंगला नंबर बी-6 उमा भारती के पड़ोसी हो गए हैं, वही दिग्विजय सिंह 3 बंगले छोड़ कर बी-1 में रहते हैं।

आपको बताते चलें कि वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तीन साल पहले मध्यप्रदेश सरकार से भोपाल में सरकारी बंगला मांगा था, लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया का आवेदन करीब छह माह तक लंबित रहा, उस दौरान सिंधिया विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष रहे थे, जानकारी के मुताबिक ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमलनाथ सरकार में भी प्रयास किया था लेकिन बंगला नहीं मिल पाया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co