शाहजहांनाबाद टीआई जहीर खान ने जान जोखिम में डालकर युवक को टॉवर से नीचे उतारा
90 मीटर टावर पर चढ़े युवक को टीआई ने निचे उताराRaj Express

शाहजहांनाबाद टीआई जहीर खान ने जान जोखिम में डालकर युवक को टॉवर से नीचे उतारा

नगर निगम की रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंच गई थी लेकिन उससे पहले ही शाहजहांनाबाद टीआई जहीर खान अपनी जान जोखिम में डालकर युवक की जान बचाने टॉवर पर जा चढ़े और युवक को सकुशल नीचे उतार लिया।

हाइलाइट्स :

  • निजी और समाज से जुड़ी 16 समस्याओं को लेकर 90 मीटर ऊंचे टॉवर पर चढ़ा युवक।

  • टीआई ने कहा, मोबाइल पर वीडियो बनाने से अच्छा है टॉवर पर चढ़कर जान बचाई जाए।

भोपाल, मध्यप्रदेश। पुराने शहर के स्टेट बैंक चौराहा पर मंगलवार शाम उस समय अफरा-तफरी मच गई जब एक युवक तिरंगा झंडा लेकर बीएसएनएल ऑफिस के 90 मीटर ऊंचे टॉवर पर जा चढ़ा। टॉवर की ऊंचाई इतनी अधिक थी कि न तो युवक की आवाज नीचे सुनाई दे रही थी और न ही नीचे की आवाज ऊपर जा पा रही थी। टॉवर पर चढ़े युवक ने पम्प्लेट नीचे फेंककर अपनी समस्याओं से अवगत कराया। हालांकि नगर निगम की रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंच गई थी लेकिन उससे पहले ही शाहजहांनाबाद टीआई जहीर खान अपनी जान जोखिम में डालकर युवक की जान बचाने टॉवर पर जा चढ़े और युवक को सकुशल नीचे उतार लिया। अधिक ऊंचाई के टॉवर पर चढ़ने के कारण युवक की हालत खराब हो गई थी। उसे तुरंत इलाज के लिए अस्पताल रवाना किया गया।

समाज, देश, दुनिया और निजी समस्याएं :

थाना प्रभारी जहीर खान ने बताया कि युवक का नाम भानपुर निवासी अर्जुन है। उसके पास मिले पम्प्लेट में उसने अपना नाम अर्जुन जज्जाल लिखा है। पम्प्लेट में निजी, समाज और देश-दुनिया से जुड़ी 16 समस्याओं का जिक्र है। युवक ने बताया कि कुछ दिन पहले उसकी बेटी की मृत्यु हो गई। इलाज में उसके 30 हजार रुपए भी खर्च हो गए। प्रमुख समस्या में लिखा है कि मेहनत-मजदूरी करने वाले हर मेहनतकश की मजदूरी प्रति दिन एक हजार रुपए की जाए। गैस कांड का पैसा तुरंत दिया जाए। नगर निगम में काम करने वाले मजदूरों को पक्का किया जाए। अयोध्या बाजार मेन चौराहा पंचमुखी हनुमान मंदिर के सामने से शराब की कलारी हटाई जाए। बालीवुड फिल्मों की शूटिंग और शराब बंद की जाए, जिससे देश से अपराध खत्म हो सके। मंत्री और विधायकों के बंगलों को छोटा किया जाए। कोरोना काल में मरे लोगों को शासन चार लाख रुपए का मुआवजा दे।

टॉवर से बहुत खूबसूरत दिखता है भोपाल :

थाना प्रभारी जहीर खान ने बताया कि जब किसी प्रकार के रिस्क की बात आती है तो हमेशा पुलिस सामने आती है। मैंने सोचा है कि रिस्क लेना है तो मैं ही क्यों न लूं। किसी और की जान जोखिम में क्यों डालूं। नब्बे मीटर ऊंचे टॉवर से भोपाल बहुत खूबसूरत दिखता है। जब मैं ऊपर पहुंचा तो लड़के की हालत बहुत खराब थी। वह लगभग बेहोशी की हालत में था। हार्ट बीट बहुत तेज थी और हाथ-पैर अकड़ से गए थे। तब तक नगर निगम की रेस्क्यू टीम से फहीम भाई भी ऊपर आ गए थे। मैंने थोड़ा पानी पिलाकर लड़के की हालत में सुधार लाने का प्रयास किया। जब वह थोड़ा सामान्य हुआ और बात करने की स्थिति में हुआ तो समस्या सुनी। एक मीडियाकर्मी के इस सवाल पर कि जान जोखिम में डालकर टॉवर पर चढ़ना कैसा लगा, थाना प्रभारी जहीर खान ने कहा कि मोबाइल पर वीडियो बनाने से बेहतर लगा कि टॉवर पर चढ़कर युवक की जान बचाऊं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co