भोपाल: आज सीएम ने लगाया पीपल का पौधा, कहा- 'पीपल का वृक्ष प्रगति का प्रतीक'
आज सीएम ने लगाया पीपल का पौधाSocial Media

भोपाल: आज सीएम ने लगाया पीपल का पौधा, कहा- 'पीपल का वृक्ष प्रगति का प्रतीक'

भोपाल, मध्यप्रदेश : आज मुख्यमंत्री ने स्मार्ट पार्क में पीपल का पौधा लगाया, इस अवसर पर सीएम ने कहा कि मध्यप्रदेश के समस्त नागरिक साल में एक बार पौधा अवश्य लगाएँ।

भोपाल, मध्यप्रदेश। सीएम शिवराज का रोजाना एक पौधारोपण करने का संकल्प सतत् रूप से जारी है, हर दिन एक पेड़ लगाने के संकल्प के तहत अब तक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा राजधानी भोपाल में कई पौधों का रोपण किया जा चुका है, इस बीच ही पौधारोपण की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में पीपल का पौधा लगाया है।

सीएम शिवराज ने लगाया पीपल का पौधा :

मिली जानकारी के मुताबिक आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट पार्क में पीपल का पौधा लगाया और कहा कि पीपल का वृक्ष प्रगति का प्रतीक है।

सीएम ने बताया पीपल का महत्व-

पीपल एक छायादार वृक्ष है, पर्यावरण शुद्ध करता है। इसका धार्मिक महत्व भी है। सर्दी-जुकाम जैसी समस्या में भी पीपल लाभदायक होता है। पीलिया हो जाने पर पीपल के 3-4 नए पत्तों के रस में मिश्री मिलाकर बनाए गए शरबत को पीना बेहद फायदेमंद होता है।

सीएम चौहान ने किया ट्वीट-

सीएम ने ट्वीट कर कहा कि परिवार के सदस्यों के जन्मदिन या वैवाहिक वर्षगांठ पौधरोपण कर मनाई जाएगी तो इससे अद्भुत आनंद की अनुभूति होगी, पीपल का वृक्ष प्रगति का प्रतीक है। भारतीय संस्कृति में महत्वपूर्ण इसे देव वृक्ष भी कहा गया है।

सीएम ने कहा कि "धरती पर मानव जीवन का अस्तित्व भविष्य में संकट में न पड़े, इसके लिए हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाने होंगे" मैं रोज़ एक पेड़ लगा रहा हूँ, आज मैंने भोपाल में पीपल का पौधा लगाया है, पीपल के पवित्र वृक्ष में अनेक प्रकार के औषधीय गुण होते हैं। पीपल प्रचुर मात्रा में प्राणवायु तो देता ही है, साथ ही इसके पत्तों और छाल से अनेक आयुर्वेदिक दवाएँ बनाई जाती हैं जिसके इस्तेमाल से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है। मेरी समस्त प्रदेशवासियों से भी अपील की है कि साल में कम से कम एक पेड़ ज़रूर लगाएँ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co