ग्रामीणों ने पेश की जागरुकता की मिसाल, बाहरी लोगों के प्रवेश पर लगाई रोक
ग्रामीणों ने पेश की जागरुकता की मिसालSocial Media

ग्रामीणों ने पेश की जागरुकता की मिसाल, बाहरी लोगों के प्रवेश पर लगाई रोक

बैतूल, मध्यप्रदेश: ग्राम बाचा ने जागरूकता की मिसाल पेश करते हुए जनता कर्फ्यू लगाकर प्रवेश मार्ग पर नाकाबंदी कर दी।

बैतूल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना से जहां कई जिले प्रभावित हैं तो वहीं संक्रमण की लहर ग्रामीण क्षेत्रों में भी प्रवेश कर गई है इस बीच ही जिले के ग्राम बाचा ने जागरूकता की मिसाल पेश करते हुए जनता कर्फ्यू लगाकर प्रवेश मार्ग पर नाकाबंदी कर दी। वहीं बाहरी लोगों के प्रवेश पर भी पाबंदी लगी हुई है।

ग्रामीणों ने एकजुटता का परिचय देते हुए दी मिसाल

इस संबंध में बताते चलें कि, गांव को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए ग्रामीणों ने एकजुटता से निर्णय लिया है। जिसके तहत ग्रामीणों को जरूरत की सामग्री उपलब्ध कराने के लिए युवाओं की एक टीम बना दी गई है जो हर घर में पहुंचकर संपर्क कर रही है। बाजार से जरूरत का सामान लाने के लिए दो युवाओं काे जिम्मेदारी दी गई है और वे ही सब कुछ मुहैया करा रहे हैं। इसके अलावा निगरानी रखने के लिए गांव के ही युवाओं को दिन और रात के लिए जिम्मेदारी दी गई है ताकि अन्य कोई गांव में प्रवेश न कर सके। इसके लिए नाके पर बैनर भी लगाया गया है जिसमें लिखा कि, बाहरी लोगों का प्रवेश वर्जित है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ग्रामीणों की पहल को सराहा

इस संबंध में, प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्रामीणों की सकारात्मक पहल को सराहते हुए कहा कि, बैतूल के ग्राम बाचा के ग्रामीणों ने स्वत:स्फूर्त भावना से जनता कर्फ्यू लगाकर जागरुकता की मिसाल पेश की है। कोरोना संक्रमण के विरुद्ध यही भावना मध्यप्रदेश को विजयी बनायेगी। बताते चलें कि, ग्राम बाचा सोलर विलेज के नाम से जाना जाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co