अस्पताल में आग का हादसा दुखद, हादसे में 4 बच्चों को नहीं बचाया जा सका : भूपेंद्र सिंह
अस्पताल में आग लगने की घटना पर भूपेंद्र सिंह ने व्यक्त किया दुखPriyanika Yadav-RE

अस्पताल में आग का हादसा दुखद, हादसे में 4 बच्चों को नहीं बचाया जा सका : भूपेंद्र सिंह

भोपाल, मध्यप्रदेश। कमला नेहरु अस्पताल के शिशु वार्ड में आग लगने की घटना पर मध्यप्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री एवं भोपाल जिले के प्रभारी भूपेंद्र सिंह ने ट्वीट कर दुख व्यक्त किया है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी की राजधानी भोपाल के अस्पताल में सोमवार रात को आग की घटना में 4 नवजात की मौत हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल के चिल्ड्रन वार्ड में कुल 40 बच्चे भर्ती थे, जिसमें से 36 को सुरक्षित निकाल लिया गया है। कमला नेहरु अस्पताल के शिशु वार्ड में आग लगने की घटना पर मध्यप्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री एवं भोपाल जिले के प्रभारी भूपेंद्र सिंह ने ट्वीट कर दुख व्यक्त किया है।

भूपेंद्र सिंह ने ट्वीट के जरिए कहा-

मध्यप्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री एवं भोपाल जिले के प्रभारी भूपेंद्र सिंह (Bhupendra Singh) ने ट्वीट के जरिए कहा- यह हादसा दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। हादसे में चार बच्चों को बचाया नहीं जा सका। अन्य बच्चों का इलाज जारी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना के उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं, दुख की इस घड़ी में संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं।

सीएम शिवराज ने दिए जांच के आदेश :

बता दें कि, इस घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने ट्वीट कर कहा है कि अस्पताल के चाइल्ड वार्ड में आग की घटना बेहद दुखद है। उन्होंने इस घटना की उच्चस्तरीय जांच के निर्देश दिए हैं, जांच एसीएस लोक स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मोहम्मद सुलेमान करेंगे।

मध्य प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा (VD Sharma) ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया, बीजेपी अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने आग की घटना की घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना भी की। इसके अलावा चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Vishvas Sarang) ने मध्य रात्रि में किए गए ट्वीट में कहा कि आग लगने की सूचना पर वे स्वयं अस्पताल पहुंचे और राहत एवं बचाव देखे। हादसे में चार बच्चों को बचाया नहीं जा सका। उनके परिजनों को चार चार लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। अन्य बच्चों का इलाज जारी है और स्थिति पूरी तरह काबू में है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co