इंदौर में बड़ी कार्रवाई: निगम ने दो खतरनाक मकानों को किया जमींदोज
इंदौर में बड़ी कार्रवाईSocial Media

इंदौर में बड़ी कार्रवाई: निगम ने दो खतरनाक मकानों को किया जमींदोज

इंदौर, मध्यप्रदेश : शहर में मानसून द्वारा खतरनाक मकानों की सूची बनाकर उन्हें रिमूवल किया जाता है। इसी कड़ी में शुक्रवार को निगम ने खतरनाक मकानों को गिराया है।

इंदौर, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश में कई मामलों पर कार्रवाईयों का दौर जारी है, पुलिस और प्रशासन, नगर निगम बड़ी-बड़ी कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं, इस बीच आज मध्यप्रदेश के इंदौर में हुई बड़ी कार्रवाई, यहां निगम ने दो खतरनाक मकानों को जमींदोज किया है।

खतरनाक मकानों को निगम ने गिराया :

बता दें, मानसून द्वारा शहर में खतरनाक मकानों की सूची बनाकर उन्हें रिमूवल किया जाता है। इसी कड़ी में शुक्रवार को निगम ने खतरनाक मकानों को गिराया है। निगम के रिमूवल अमले ने जोन 2 के तहत आने वाले खजूरी बाजार, एमजी रोड और मोरसली गली में अति खतरनाक मकानों को तोड़ा।

निगम ने करीब 40 खतरनाक मकानों की जारी की सूची

बता दें, इस दौरान निगम द्वारा क्षेत्र का ट्रैफिक बंद कर दिया गया था वैसे भी स्मार्ट सिटी के तहत चल रहे कार्यों के कारण बड़े वाहनों का आना-जाना क्षेत्र में प्रतिबंधित है। यहां खतरनाक मकानों की रिमूवल की कार्रवाई लगातार जारी रहेगी निगम ने करीब 40 खतरनाक मकानों की सूची जारी की है।

बताते चलें कि, पहले भी निगम इंदौर में खतरनाक मकानों को तोड़ चुकी है। बीते दिनों यहां नगर निगम की टीम ने खतरनाक मकानों पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया था, कुल 164 खतरनाक मकानों की सूची तैयार की गई है, जिनकी हालत जर्जर है। इनमें 27 मकानों को अतिखतरनाक घोषित किया गया था। टीम ने सुबह सदर बाजार थाना क्षेत्र के राधा नगर में 50 से 60 साल पुराने 4 जर्जर मकानों पर बुलडोजर चला दिया था। नगर निगम की टीम ने पोकलेन मशीन की मदद से यहां बने असामाजिक तत्व के जर्जर अड्डों को जमींदोज कर दिया था।

इससे पहले 15 जुलाई को निगम की टीम ने तीन अतिखतरनाक और एक खतरनाक मकान को तोड़ दिया था। तब भवन अधिकारी विवेक जैन ने बताया था कि सदर में करीब 50-60 साल पुराने भवन असामाजिक तत्वों का अड्डा बन गए थे, लगातार शिकायतें मिलने के बाद कार्रवाई करते हुए उसे धराशायी कर दिया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co