बिलासपुर तक पहुंची कोयले की जांच
बिलासपुर तक पहुंची कोयले की जांच |Shubham Tiwari
मध्य प्रदेश

सेम्पलिंग में शारदा ओसीएम-बकही का निकला कोयला

शहडोल, मध्यप्रदेश : अवैध कोयले से लदे ट्रेलर के मामले की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ती जा रही है, कोल माफिया और इस पूरे कारोबार में शामिल लोगों की धड़कने भी तेज हो रही हैं।

Shubham Tiwari

राज एक्सप्रेस। अवैध कोयले से लदे ट्रेलर के मामले की जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ती जा रही है, कोल माफिया और इस पूरे कारोबार में शामिल लोगों की धड़कनें भी तेज हो रही हैं, जांच में कुछ चौंकाने वाले तथ्य सामने आये हैं, कोयला छत्तीसगढ़ से लोड होकर कैमोर जाना बताया गया था, लेकिन कोयला सोहागपुर क्षेत्र की खदानों का निकला है, वहीं पुलिस की जांच बिलासपुर तक पहुंच चुकी है।

सैंपलिंग में खुला राज

पकड़े गये ट्रक में लदे कोयले की सेंपलिंग सोहागपुर क्षेत्र के सेंट्रल लैब के द्वारा कराई गई, जिसमें इस बात का खुलासा हुआ है कि वाहन में लदा कोयला छत्तीसगढ़ का नहीं बल्कि सोहागपुर क्षेत्र की शारदा खुली खदान और बकही क्षेत्र में पाये जाने वाला कोयला है, जिससे यह स्पष्ट होता है कि फर्जी दस्तावेजों के सहारे कोयले की तस्करी राजेश कोटवानी एवं चंद्रशेखर नामदेव सहित बुढ़ार के छुटभइये कोयला चोर कई दिनों से इस पूरे अवैध कारोबार को संचालित कर रहे थे।

डिपो और रूट की ओर बढ़ी जांच

कोल माफिया के द्वारा प्रस्तुत किये गये दस्तावेज के आधार पर जांच आगे बढ़ाई है, जिसमें वाहन किस-किस रूट से गुजरा और किन नाकों -टोल प्लाजा से होकर गुजरा उसकी जांच के लिए भी टीम रवाना हुई है, साथ ही जिस डिपो के दस्तावेज दर्शाए गये हैं, वहां तक भी जांच टीम पहुंच चुकी है। इसके साथ ही कैमोर में जिस जगह कोयला भेजा जाना बताया जा रहा था, वहां पर भी जांच टीम जल्द ही दबिश देगी। बहरहाल मामले में जल्द ही बड़े खुलासे होंगे, विभागीय सूत्रों की मानें तो छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के कई खनिज चोरी के मामले उजागर होंगे।

छग के कागज के सहारे कोयला चोरी

सोहागपुर क्षेत्र के धनपुरी थाना अंतर्गत विभिन्न कोयला खदानों से रोजाना 7 से 8 वाहन छत्तीसगढ़ के कागज के सहारे कोयला तस्करी में लगे हुए हैं, कोल प्रबंधन को लाखों रूपये का रोजाना नुकसान हो रहा है। अगर पुलिस सूक्ष्मता से इस पूरे मामले में जांच करे तो छत्तीसगढ़ के कोल माफिया का राज खुलकर सामने आयेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co