Raj Express
www.rajexpress.co
घंटानाद आंदोलन
घंटानाद आंदोलन|Ganesh Dunge
मध्य प्रदेश

बुरहानपुर: प्रदेश सरकार के खिलाफ BJP ने शुरू किया 'घंटानाद आंदोलन'

बुरहानपुर: प्रदेश सरकार के विरोध में भाजपा ने 'घंटानाद आंदोलन' की शुरूआत की हैं और भाजपाइयों ने प्रदेश सरकार को जगाने के लिए घंटा, थालियां, शंख, मंजीरे, ढ़ोल और झांझ बजाए व नारे लगाए।

Ganesh Dunge

Ganesh Dunge

हाइलाइट्स :

  • MP की कांग्रेस सरकार को जगाने के लिए भाजपा ने 'घंटानाद आंदोलन' शुरू किया।

  • प्रदेश सरकार के खिलाफ बुरहानपुर कलेक्ट्रेट के बाहर घंटे, घड़ियाल के साथ प्रदर्शन।

  • प्रदेश सरकार को सत्ता संभाले 9 माह हो गए हैंं।

  • जनता को गुमराह कर और झूठ बोलकर कांग्रेस ने बनाई प्रदेश में सरकार।

  • भाजपा द्वारा शुरू कराई गई योजनाएं की बंद।

  • प्रदेश सरकार के विरोध में नारे लिखी तख्तियां।

राज एक्‍सप्रेस। प्रदेश सरकार द्वारा किए गए वादे पूरे नहीं किए जाने के विरोध में बुधवार को भाजपा ने प्रदेश सरकार के विरोध में 'घंटानाद आंदोलन' की शुरूआत की। प्रदेश सरकार को जगाने के लिए घंटा, थालियां, शंख, मंजीरे बजाते हुए भाजपाई तीन कि.मी. चलकर कलेक्टोरेट पहुंचे, वहीं महिला कार्यकर्ताओं ने चम्मच से थालियां बजाई। यहां पर भाजपा के पदाधिकारियों ने प्रदेश के विरोध में खूब भाषणबाजी की और किए गए वादें पूरे नहीं किए जाने तक आंदोलन लगातार जारी रखने की चेतावनी दे दी।

घंटा, शंख की नाद से गूंजा चौराहा:

सुबह 11.30 बजे भाजपा के कार्यकर्ता और पदाधिकारी सिंधी बस्ती चौराहा पर जमा हुए। कार्यकर्ताओं के जमा होते चौराहा घंटा, शंख की नाद से गूंज उठा, आते-जाते लोग भी भाजपा का विरोध प्रदर्शन देखने के लिए रुक गए। चौराहे पर प्रदर्शन के कारण लालबाग फोरलेन पर वाहन थम गए थे। यहां से शंख और घंटा बजाते हुए सभी पैदल कलेक्टोरेट के लिए रवाना हुए, पूरे रास्ते भाजपाईयों ने प्रदेश सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की।

प्रदेश सरकार के विरोध में लगाए नारे:

कार्यकर्ता हाथ में प्रदेश सरकार के विरोध में नारे लिखी तख्तियां लेकर चले, इस आंदोलन में सैंकड़ों कार्यकर्ता शामिल हुए, पूरे रास्ते कार्यकर्ताओं ने कर्जमाफी धोखा है, सबक सिखाओं मौका है, कमलनाथ का एक ही धंधा, ट्रांसफर, पोस्टिंग वसूलों चंदा, कमलनाथ की कैसी माया, चारों ओर अंधेरा छाया, झूठी बाते, झूठे भाषण, सस्ती जान, महंगा राशन, कांग्रेस हटाओं-मप्र बचाओं, कमलनाथ कहना मान लों-बोरियां, बिस्तर बांध लों सहित अन्य नारे लगाए। पूर्व कैबिनेट मंत्री अर्चना चिटनिस और मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसौदिया के नेतृत्व में प्रदेशव्यापी आंदोलन के तहत बुरहानपुर में कांग्रेस सरकार की दमनकारी नीतियों के विरुद्ध और जनता के हित की लड़ाई के लिए 'घंटानाद आंदोलन' की शुरूआत की।

घंटानाद आंदोलन
घंटानाद आंदोलन
Ganesh Dunge

कुंभकर्णी नींद में सो रही कमलनाथ सरकार:

भाजपा के पदाधिकारियों ने कहा, कुम्भकर्णी नींद में सो रही मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार को जगाने के लिए पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्टर कार्यालय के मुख्य गेट के पास विरोध प्रदर्शन किया। अर्चना चिटनिस ने कहा, कांग्रेस सरकार 9 महीने के शासन में जनता को किए वायदों की अनदेखी कर रही है। किसान से लेकर युवा और महिलाओं से लेकर बच्चे इस सरकार में सभी परेशान हैं। भाजपा घंटानाद आंदोलन में किसान कर्जमाफी, युवा स्वाभिमान योजना, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता, बिजली के बढ़े हुए बिल जैसे मुद्दों के साथ कांग्रेस नेताओं के बीच मचे घमासान को लेकर जनता के बीच उतरी है। पार्टी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं के साथ बुरहानपुर कलेक्ट्रेट के बाहर घंटे-घड़ियाल और ढोल-मंजीरों के साथ पहुंचकर प्रदर्शन किया। कमलनाथ सरकार कुंभकर्णी नींद में सो रही है। ऐसे में घंटे-मंजीरे बजाकर उसे जगाना जरूरी हो गया है।

प्रदेश सरकार को सत्ता संभाले हुए 9 माह:

बुरहानपुर देखकर ही लगता है भाजपा ने बहुत विकास किया, मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने कहा, प्रदेश सरकार को सत्ता संभाले 9 माह हो गए है, जो वादें जनता से किए गए थे, उन पर तो काम नहीं किया, भाजपा द्वारा शुरू कराई गई योजनाएं तक बंद कर दी, ये कैसी सरकार है, जो जनता के फायदें के लिए शुरू की गई योजनाएं बंद करके विकास करना चाहती है। 15 साल पहले तक प्रदेश के हाल बुरे थे। प्रदेश में भाजपा की सरकार आई तो लोगों ने देखा विकास किसे कैसे कहते हैं, विकास भाजपा ने किया है। अब समय आ गया है, प्रदेश सरकार अपने वादें पूरे करें या फिर कमलनाथ मुख्यमंत्री पद छोड़ें।

9 माह से जनता त्राही-त्राही कर रही है:

महापौर अनिल भोसले ने कहा, 9 माह से जनता त्राही-त्राही कर रही है। भाजपा के राज में 24 घंटे बिजली मिलती थी, अब तो कभी भी बिजली बंद हो जाती है। बुरहानपुर शहर पावरलूम उद्योग का शहर है। बिजली नहीं रहेगी तो उत्पादन प्रभावित होगा, जिले की आर्थिक स्थिति बिगड़ेगी, ऐसे विकास नहीं होता है। प्रदेश सरकार को जनता की चिंता करना होगी। जनता को गुमराह कर, झूठ बोलकर कांग्रेस ने प्रदेश में सरकार बनाई है। बुजुर्गों के लिए शुरू की गई तीर्थ दर्शन योजना तक बंद कर दी है।

आंदोलन में अन्य कार्यकर्ता व पदाधिकारी शामिल:

'घंटानाद आंदोलन' में पूर्व महापौर अतुल पटेल, भाजपा जिलाध्यक्ष विजय गुप्ता, भाजपा महामंत्री मनोज लधवे, नेपानगर पूर्व विधायक मंजू दादू, दिलीप श्राफ, माधुरी पटेल, गजेन्द्र पाटील, विनोद पाटील, राहुल जाधव, संजय अग्रवाल सहित अन्य कार्यकर्ता और पदाधिकारी शामिल हुए।