होलिका दहन पर रोक लगाने से BJP नेता कैलाश नाराज, कहा- होलिका दहन रोकना अनुचित!
होलिका दहन पर रोक लगाने से BJP नेता कैलाश नाराजPriyanka Yadav-RE

होलिका दहन पर रोक लगाने से BJP नेता कैलाश नाराज, कहा- होलिका दहन रोकना अनुचित!

इंदौर, मध्यप्रदेश। प्रदेश के इंदौर में प्रशासन ने क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में निर्णय लिया है कि सार्वजनिक रूप से होलिका दहन नहीं किया जा सकेगा, इस निर्णय से भाजपा के कई नेता नाराज है।

इंदौर, मध्यप्रदेश। प्रदेश के इंदौर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रशासन ने क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में निर्णय लिया गया कि रविवार को लॉकडाउन के बाद होली के दिन सोमवार को भी लॉकडाउन जैसी सख्ती बरकरार रहेगी वही इंदौर में सार्वजनिक रूप से होलिका दहन नहीं किया जा सकेगा। बता दें कि इस निर्णय से भाजपा के कई नेता नाराज हैं वहीं इंदौर में होली दहन का आयोजन नहीं होना और रंग-गुलाल नहीं उड़ाने देने के फैसले का शहरभर में विरोध शुरू हो गया है।

कैलाश विजयवर्गीय बोले- होली जलाने से रोकना गलत, धार्मिक भावनाएं आहत होंगी

इस बीच अब भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय का बयान सामने आया है, मध्यप्रदेश के इंदौर में प्रशासन द्वारा होलिका दहन पर रोक लगाने पर नाराज भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर कहा- "होलिका दहन रोकना अनुचित है। यह बेहद आपत्तिजनक फैसला है। इससे जनता की धार्मिक भावनाएं आहत होंगे। प्रशासन इस पर फिर से विचार करे।"

बताते चलें कि इससे पहले भाजपा नेता उमेश शर्मा का ट्वीट कर लिखा है कि होलिका दहन तो होगा, मै क्राईसेस मैनेजमेंट कमेटी के निर्णय से असहमति व्यक्त करता हूं। मेरे मोहल्ले में कोविड नियम पालन के साथ पर्व पूजन होगा ही। जिलाधीश जी आपका प्रकरण, डीआईजी आपका डंडा शिरोधार्य। मेरे भाई के निधन पश्चात धुलेंडी पर सीमित सीमा म़े परिवार में रंग डालने स्वजन भी आऐंगे।

वही दूसरी तरफ इस मामले को लेकर कांग्रेस विधायक शुक्ला बोले- हम तो होली भी जलाएंगे, रंग भी डालेंगे! कांग्रेस विधायक शुक्ला ने ट्वीट कर कहा- होली जलाएंगे और मनाएंगे भी...... हिन्दू विरोधी है भाजपा सरकार कांग्रेस विधायक शुक्ला ने कहा कि क्राइसिस कमेटी की बैठक में इंदौर के जनप्रतिनियों का अपमान किया जा रहा है, हम विधायक हैं, पर हमें नहीं बुलाया जा रहा है। भाजपा के कुछ लोग यह निर्णय ले रहे हैं।

आपको बताते चलें कि मध्यप्रदेश के इंदौर शहर ही नहीं पूरे देश में होली का पर्व धूमधाम से मनाया जाता है, यह पर्व इसलिए महत्वूपर्ण है, परिवार में गमी होने पर होली के रंग डलने के बाद ही उस परिवार में शुभ काम शुरू होते हैं, ऐसे में मध्यप्रदेश के बड़े शहरों में इस बार की होली बे-रंग रहेगी। बताते चलें कि मध्यप्रदेश के इंदौर में शाम को हुई क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में शुक्रवार से बाजार रोजाना रात 10 के बजाय 9 बजे बंद करने का निर्णय लिया गया है वही रविवार लॉकडाउन के साथ होली के दिन आवाजाही पर भी प्रतिबंध रहेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co